ज्योतिष

बन रहा है शुभ योग, हल्दी पानी से नहाकर सूर्य को चढ़ाएं जल, होगा ये लाभ

नवरात्रों में छठे दिन मां कात्यायनी की पूजा होती है. मंगलवार को षष्ठी पड़ी है. मंगल ग्रह सिंह राशि में बैठे हैं. सिंह दुर्गा जी का वाहन है.

ग्रह का अद्भुत संयोग बना है. आज मुश्किल से मुश्किल काम बन जाएगा. हर काम में मंगल ही मंगल होगा. मां कात्यायनी की पूजा से हर भय, कर्ज और शोक खत्म होगा.

मां दुर्गा का छठे स्वरुप मां कात्यायनी को लाल चुन्नी के साथ 6 लाल फूल चढ़ाएं और छह गुलाब जामुन का भोग लगाएं.

इस चढ़ावे से मां बहुत जल्दी प्रसन्न होती हैं और मनोकामना पूरी करती हैं.

शादी के लिए करें ये उपाय…

– पहले हल्दी डालकर नहाएं.

– सूर्य को जल चढ़ाएं फिर मां कात्यायनी की पूजा करें.

– मां को मेहंदी और लाल सिंदूर चढ़ाएं.

– पीला और और लाल धागा दुर्गा मां को चढ़ाकर गले में पहनें.

– मां को छह केले चढ़ा दें.

– लड्डू का प्रसाद चढ़ाकर प्रसाद खा लें.

बच्चों की सेहत ठीक रहे और कोई दुर्घटना ना हो

– लाल वस्त्र धारण करें, लाल आसान पर बैठें.

– मां दुर्गा के समक्ष के बैठकर पूजा करें.

– चावल का ढ़ेर बनाएं, ऊपर एक टुकड़ा गुड रखें.

– चन्दन की अगरबत्ती और घी का दीपक जलाएं.

– लाल सिंदूर, अनार और बर्फी चढ़ाएं.

– मीठा पान चढ़ाएं.

– 21 रुपये की दक्षिणा चढ़ाएं.

– गुलाब फूल से पुष्पांजलि दें.

– रात को ‘ॐ दुर्गाये नमः’ को जाप करें.

कात्यायनी माता का खास भोग क्या होगा

– हींग लाल मिर्च और तेजपत्ता का छौंक लगाकर

– मूंग चावल की खिचड़ी का माता को भोग लगाएं और लोगों में भोग का प्रसाद बांटें

बच्चों की पढ़ाई, अच्छी नौकरी, व्यापार के लिए

– एक शहद की शीशी में छह सिक्के डालें. मां दुर्गा के पास रखें.

– एक पीपल के पत्ते पर लाल सिंदूर लगाकर पूजा करके पास रखें. नौकरी में सफलता मिलेगी और व्यापार में भी प्रगति होगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
%d bloggers like this: