बौखलाहट में देश के संविधान का भी अपमान कर रही दीदी: पीएम मोदी

मोदी ने पश्चिम बंगाल में रैली गुरुवार को ममता बनर्जी पर निशाना साधा

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल के बांकुरा में सभा की। सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ममता दीदी ने पहले बंगाल को बर्बाद किया, अपनी सत्ता के नशे में। अब वो अपनी सत्ता जाने के डर से बंगाल को और तबाह करने पर तुल गई हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल में रैली गुरुवार को ममता बनर्जी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ममता दीदी को मां-माटी-मानुष की नहीं, सिर्फ और सिर्फ अपने हितों, अपनी कुर्सी, अपने रिश्तेदारों, अपने भतीजे, अपने टोलाबाजों की परवाह है।

PM मोदी ने कहा कि दीदी की भाषा से अंदाजा लगाया जा सकता है की वो कितनी परेशान है। वो अब मेरे लिए पत्थरों की बात करती हैं, थप्पड़ों की बात करती हैं। उन्होंने कहा कि मुझे तो गालियों की आदत है लेकिन बौखलाहट में दीदी देश के संविधान का भी अपमान कर रही हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि वो (ममता बनर्जी) देश के प्रधानमंत्री को प्रधानमंत्री मानने के लिए तैयार नहीं हैं। लेकिन पाकिस्तान के पीएम को, पीएम मानने में उन्हें गौरव का अनुभव होता है।

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि जब पश्चिम बंगाल में समुद्री तूफान आया, तो मैंने दीदी को दो बार फोन किया, लेकिन उनका अहंकार इतना है कि उन्होंने देश के प्रधानमंत्री से बात करना उचित नहीं समझा। ममता दीदी, विद्वानों, विचारकों, दार्शनिकों, कलाकारों की इस माटी का रंग बदलना चाहती हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि जब पूरा देश सर्जिकल स्ट्राइक डे मना रहा था, तो पश्चिम बंगाल की सरकार ने ऐसा करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि दीदी के दिल में घुसपैठियों के लिए, विदेशी कलाकारों के लिए ममता है। लेकिन हमारे आदिवासी युवा, हमारे सपूत जो राष्ट्र रक्षा में अपनी भूमिका निभा रहे हैं, उनके लिए ममता नहीं है।

Back to top button