Died in 2018: 2018 में इन मशहूर सितारों ने कहा दुनिया को अलविदा

सिर्फ श्रीदेवी ने ही नहीं इस साल फिल्म जगत के कई नामी सितारों ने इस दुनिया को अलविदा कहा.

साल 2018 अपने अंतिम पड़ाव पर है और ये साल जाते-जाते हमें कई अच्छी और बुरी यादें देकर जा रहा है. हर साल की तरह भी ये साल भी कई मीठी यादों के साथ-साथ कई दुखद यादें भी दे गया है.

इस साल देश ने सिनेमा जगत के नामी चेहरों को खोया है. जिनमें सबसे पहले जेहन में लीजेंड एक्ट्रेस श्रीदेवी का नाम आता है.

लेकिन सिर्फ श्रीदेवी ने ही नहीं इस साल फिल्म जगत के कई नामी सितारों ने इस दुनिया को अलविदा कहा.

इस खास रिपोर्ट में हम आपको उन सितारों से जुड़ी कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं जो इस दुनिया को बेवक्त ही अलविदा कह गए…

श्रीदेवी :

24 फरवरी को शनिवार था और शनिवार की इस रात को एक ऐसी खबर सामने आई जिसने सबकी नींद उड़ा दी. देर रात फिल्मी मैगजीन फिल्म फेयर ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया कि अब श्रीदेवी हमारे बीच नहीं रही.

जैसे ही पहली बार ये खबर सामने आई सबके पैरों तले मानो जमीन ही खिसक गई. सारी रात बॉलीवुड , मीडिया और फैंस इसी उलझन में रहे क्या कोई जानकर ऐसा अफवाह उड़ा रहा है या फिर बॉलीवुड के आसमान ने अपना एक चमकता सितारा हमेशा के लिए खो दिया है. लेकिन सुबह होते होते इस खबर पर मुहर लग गई.

श्रीदेवी की मौत से कुछ वक्त पहले ही महानायक अमिताभ ने ट्वीट कर कहा थी कि मन कुछ बेचैन सा है. श्रीदेवी की मौत की खबर सामने आने के बाद उन्होंने फिर ट्वीट करते हुए कहा कि श्रीदेवी के इस तरह दुनिया से चले जाने से वो बेहद गमगीन और हैरान हैं कि जिंदगी कितनी अनप्रीडिक्टेबल (अनपेक्षित) है.

किसी के लिए भी ये यकीन कर पाना मुश्किल की था कि मात्र 55 साल की उम्र में श्रीदेवी की बाथटब में एक्सीडेंटली गिरकर डूबने से मौत हो गई.

मौत से दो दिन पहले श्रीदेवी ने अपने भांजे मोहित मारवाह की शादी अटेंड की थी. शादी में खूब डांस भी किया था और सबके साथ खूब मस्ती की थी. लेकिन तब किसे पता था कि ये आखिरी बार है जब वो लोग श्रीदेवी को इस अंदाज में देख रहे हैं.

ये सितारे भी दुनिया को कह गए अलविदा

सुप्रिया देवी :

बंगाली फिल्म जगत का एक जानामाना नाम सुप्रिया देवी 85 साल की उम्र में इस दुनिया को अलविदा कह गईं. अपने अभिनय का लोहा मनवा चुंकी और भारत सरकार की ओर से पद्मश्री सम्मान से नवाजी जा चुकीं सुप्रिया ने 26 जनवरी को कोलकाता में आखिरी सांस ली.

सुप्रिया देवी ने सिर्फ बंगाली सिनेमा ही नहीं बल्कि हिंदी सिनेमा पर भी अपनी छाप छोड़ी है. उन्होंने ‘बेगाना’ और ‘दूर गगन की छांव में’ जैसी यादगार फिल्मों में काम किया. उन्होंने महज 7 साल की उम्र में एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा था.

नरगिस रबड़ी :

शम्मी आंटी के नाम से मशहूर एक्ट्रेस नरगिस रबड़ी ने इसी साल 6 मार्च को दुनिया को अलविदा कहा.

‘हम साथ -साथ हैं’ और ‘दिल’ जैसी कई सुपरहिट फिल्मों का हिस्सी रहीं शम्मी आंटी ने अपने करियर की शुरुआत मात्र 18 साल की उम्र में किया था. साल 1949 में आई फिल्म उस्ताद पैदरो के लिए उन्हें साइन किया गया था.

नरेंद्र झा :

एक्टर नरेंद्र झा की अचानक मौत ने भी सबको हैरान कर दिया था. 55 साल के नरेंद्र झा की मौत हार्टअकटैक के कारण हुई थी. बिहार के मधुबनी में जन्मे नरेंद्र झा ने कई फिल्मों और धारावाहिकों में काम किया था.

उन्होंने साल 2012 में आई फिल्म ‘फंटूश ‘ से बॉलीवुड में कदम रखा था. लेकिन उन्हें प्रसिद्धि शाहरुख खान की फिल्म ‘रईस’ ‘हैदर’ और ‘काबिल’ से मिली थी.

रीता भादुड़ी : रीता भादुड़ी ने 17 जुलाई को अंतिम सांस ली. उन्हें किडनी की बीमारी के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां करीब 10 दिनों तक उनका इलाज चला.

अभिनेत्री लंबे समय से किडनी की बीमारी से पीड़ित थीं. उन्हें आखिरी बार स्टार भारत के टीवी शो ‘निमकी मुखिया’ में ‘इमर्ती देवी’ का किरदार निभाते हुए देखा गया था.

सुजाता कुमार :

एक्ट्रेस सुजाता कुमार ने 19 अगस्त को कैंसर से जंग हारकर इस दुनिया को अलविदा कहा. बताया जाता है कि सुजाता को मेटास्टेटिक कैंसर था जिसके इलाज के लिए वो लंबे समय तक मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती रहीं थी.

बता दें सुजाता कुमार ने ‘इंग्लिश विंग्लिश’ में उन्होंने श्रीदेवी की बहन का किरदार निभाया था. इसके बाद उनके पास कई अच्छे प्रोजेक्ट्स आए थे.

वे ‘रांझणा’, ‘गोरी तेरे प्यार में’ जैसी फिल्मों में नजर आ चुकी हैं. सुजाता ने कई टीवी शोज में भी काम किया था. जिनमें ‘होटल किंगस्टन’, ‘बॉम्बे टॉकिंग’ और ’24’ शामिल हैं.

कल्पना लाजमी: कल्पना लाजमी एक ऐसी फिल्म मेकर थीं जिन्होंने कहानी कहने के एक नए अंदाज को लोगों के सामने रखा था.

हालांकि कल्पना की मौत का कारण भी सुजाता कुमार की तरह कैंसर ही बना. मात्र 61 साल में वो कैंसर से जंग हार गईं और इस दुनिया को अलविदा कह गई.

कल्पना लाजमी को किडनी का कैंसर था, जिसके चलते उनके शरीर के कईं अंगों ने काम करना बंद कर दिया था. कल्पना ने बॉलिवुड की कई फिल्मों का निर्देशन किया है.

इसमें ‘एक पल’, ‘रुदाली’, ‘दरमियां’, ‘क्यों?’ और ‘चिंगारी’ जैसी फिल्में प्रमुख हैं. इसके अलावा उन्होंने टीवी सीरियल ‘लोहित किनारे’ का भी डायरेक्शन किया.

नितिन बाली: 90 के दशक के फेमस सिंगर नितिन बाली ने इसी साल एक सड़क दुर्घटना में अपनी जान गंवा दी. 47 साल के नितिन बाली सड़क हादसे में एक दुर्घटना का शिकार हो गए थे.

जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. जहां एक बार तो उन्हें अस्पताल से छुट्टि दे दी गई थी. लेकिन घर पहुंचने के कुछ देर बाद ही उन्हें खून की उल्टी होने लगी.

जिसके बाद उनकी धड़कनें तेज हो गईं और वो बेहोश हो गए. उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया लेकिन फिर भी उन्हें बचाया नहीं जा सका.

मोहम्‍मद अजीज :

सिंगर मोहम्‍मद अजीज भी इसी साल इस दुनिया को अलविदा कह गए. 64 साल के अजीज को कोलकाता से वापस मुंबई लौटते वक्त हार्ट अटैक आया और उनकी मौत हो गई.

अजीज साल 1982 में मुंबई आए तो उन्हें पहला ब्रेक सपन जगमोहन ने दिया था. बता दें कि मोहम्‍मद अजीज 80 और 90 के दशक में कई सुपरहिट गीत गा चुके हैं.

उनके हिट गानों में ‘लाल दुपट्टा मलमल का’ (1989), ‘तेरी बेवफाई का शिकवा करुं तो’ (राम अवतार, 1988), ‘आजकल याद और कुछ रहता नहीं’ (नगीना 1986) और ‘ऐ मेरे दोस्त लौट के आजा’ (स्वर्ग, 1990) जैसे गाने शामिल हैं.

new jindal advt tree advt
Back to top button