राजनीतिराष्ट्रीय

दिलीप घोष ने ममता बनर्जी की पार्टी के लोगों को सुधरने होने की दी चेतावनी

बीजेपी अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को हिटलर करार दिया

कोलकाताः पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के लोगों को सुधरने की चेतावनी दी है, नहीं तो वह हिंसक कार्रवाई कर सकते हैं.

दिलीप घोष ने कहा, “ममता दीदी के लोग जो शरारत करते हैं उनसे कहना चाहता हूं कि वह 6 महीने में खुद को ठीक कर लें, नहीं तो उनके हाथ, पैर, पसलियां और सिर तोड़ दिए जाएंगे. घोष ने कहा कि आपको घर जाने से पहले आपको अस्पताल जाना होगा.

दिलीप घोष ने कहा कि अगर उनकी शरारत बढ़ती है तो उन्हें श्मशान भेज दिया जाएगा.” जो बीजेपी अब तक ममता सरकार को कानून का रास्ता अख्तियार करने की बात कर रही थी. अब उसी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कानून को हाथ में लेने की बात कर रहे हैं. इसके अलावा बीजेपी अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को हिटलर करार दिया है.

छपी खबर के मुताबिक दिलीप घोष ने रविवार को हल्दिया में एक रैली में राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को “साड़ी पहने हुए हिटलर” करार दिया. घोष ने यह भी दावा किया कि आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा 200 सीटें जीतेगी.

बंगाल में बीजेपी की चुनावी तैयारियां तेज 2021 में होने वाले बंगाल विधानसभा चुनावों को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं. बीजेपी राज्य में कुल 294 सीटों में से पार्टी के लिए 200 सीटें जीतने तथा राज्य में सत्ता में आने का लक्ष्य निर्धारित किया है.

कुछ दिनों पहले ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल का दौरा किया था. श्वेत पत्र लाए ममता सरकार मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से कहा कि वह राज्य में राजनीतिक हत्याओं पर श्वेत-पत्र लेकर आएं. उन्होंने हैरानी जताई कि प्रदेश सरकार ने क्यों राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) को अपराध के आंकड़े नहीं भेजे.

संशोधित नागरिकता कानून के लागू होने का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि कानून अपनी जगह है और यह केंद्र सरकार का संकल्प है. अमित शाह ने कहा, “विकास के नए युग में हम एक मजबूत बंगाल बनाने का लक्ष्य रखते हैं.

ममता बनर्जी अपने भतीजे को अगला मुख्यमंत्री बनाने का लक्ष्य रखती हैं.” उन्होंने कहा, “पश्चिम बंगाल सरकार ने 2018 से एनसीआरबी को अपराध के आंकड़े नहीं भेजे हैं. मैं कहना चाहता हूं कि ममता बनर्जी राजनीतिक हत्याओं पर श्वेत-पत्र लेकर आएं. राजनीतिक हत्याओं के लिहाज से बंगाल शीर्ष पर है.”

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button