खाद, बीज व कीटनाशक विक्रेताओं के लिए डिप्लोमा पाठ्यक्रम जरूरी

विक्रेताओं को मिला प्रमाण पत्र

अम्बिकापुर : सरगुजा जिले के विभिन्न विकासखण्डों में बीज, उर्वरक एवं कीटनाशक बिक्री करने वाले निजी व्यवसायियों को डिप्लोमा इन एग्रीकल्चरल एक्सटेंशन सर्विसेस फार इनपुट डीलर्स पाठ्यक्रम का प्रमाण पत्र जिला पंचायत अध्यक्ष फुलेश्वरी सिंह की अध्यक्षता में एवं कृषि विज्ञान केन्द्र अजिरमा अम्बिकापुर के कार्यक्रम समन्वयक डॉ. रविन्द्र तिग्गा तथा उप संचालक कृषि एम.आर. भगत की उपस्थिति में प्रदाय किया गया।

उप संचालक कृषि एम.आर. भगत ने बताया है कि जिले के उर्वरक बीज एवं कीटनाशक विक्रेता जो कृषि स्नातक नहीं है। ऐसे विक्रेताओं को उर्वरक, बीज एवं कीटनाशक विक्री करने हेतु पाठ्यक्रम उर्त्तीण करना अनिवार्य हो गया है। इसी तारतम्य में सरगुजा जिले के 40 निजी व्यवसायियों को कृषि विज्ञान केन्द्र में 52 सप्ताह तक कृषि विज्ञान केन्द्र एवं राजमोहिनी देवी कृषि महाविद्यालय अजिरमा के कृषि वैज्ञानिकों द्वारा प्रशिक्षण प्रदाय कर राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंध संस्थान राजेन्द्र नगर हैदराबाद द्वारा परीक्षा ली गई थी।

जिसमें 39 प्रशिक्षणार्थी सम्मिलित हुये। पाठ्यक्रम की परीक्षा में महामाया मिल स्टोर अम्बिकापुर के संचालक राकेश गुप्ता ने 80.83 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान प्राप्त किया। इसी प्रकार उमेश खत्री ने 76 प्रतिशत अंक प्राप्त कर द्वितीय, सुबोध विश्वास ने 73.83 प्रतिशत अंक प्राप्त कर तृतीय, बैजनाथ गुप्ता एवं सुरेश प्रधान ने 73.33 प्रतिशत अंक प्राप्त कर संयुक्त रूप से चतुर्थ तथा अमित गुप्ता ने 72 प्रतिशत अंक प्राप्त कर पांचवा स्थान प्राप्त किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष फुलेश्वरी सिंह ने पाठ्यक्रम उर्त्तीण सभी उर्वरक, बीज एवं कीटनाशक विक्रेताओं को शुभकामनाएं देते हुए क्षेत्र के कृषकों को समझाईश देकर उर्वरक, बीज एवं कीटनाशक बिक्री करने की सलाह दी। उप संचालक कृषि एम.आर. भगत ने निजी विक्रेताओं को बताया कि जिले के कृषकों के खेतों का मृदा परीक्षण कर उन्हें मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरित किया गया है। जिस पर उर्वरक की कमी की आधार पर अनुशंसित मात्रा अंकित है।

इसी आधार पर कृषकों को उर्वरक डालने की सलाह देने कहा गया है। इस दौरान जी.आर. पठाड़े, अदित नंदन यादव, अरविन्द वर्मा, बल्लू साय मराबी, सुरेन्द्र अहिरवार, धमेन्द्र अगासे, सैलेन्द्र लाल एवं अमित सिंह उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन कृषि विकास अधिकारी एन.के. आइच के द्वारा किया गया।

Back to top button