मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल से मुख्य सड़क को जोडऩे बनेगी सीधी सड़क

मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल से मुख्य सड़क को जोडऩे सीधी सड़क बनाई जाएगी। इस संबंध में प्रस्ताव शासन को प्रेषित करने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को लोक निर्माण तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री राजेश मूणत ने निर्देशित किया

मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल से मुख्य सड़क को जोडऩे बनेगी सीधी सड़क

लोक निर्माण तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री राजेश मूणत ने दिए निर्देश

राजनांदगांव : मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल से मुख्य सड़क को जोडऩे सीधी सड़क बनाई जाएगी। इस संबंध में प्रस्ताव शासन को प्रेषित करने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को लोक निर्माण तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री राजेश मूणत ने निर्देशित किया। श्री मूणत आज यहाँ निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के निरीक्षण के लिए पहुँचे थे। इस मौके पर सांसद श्री अभिषेक सिंह भी मौजूद थे। उन्होंने निर्माण कार्य में लगी एजेंसी से तय समयावधि में गुणवत्तापूर्वक निर्माण कार्य सुनिश्चित करने कहा।

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने उन्हें हॉस्टल भवन दिखाया, जिसका निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। श्री मूणत ने निर्माण कार्य से संतुष्टि जताई। उन्होंने कहा कि पूरे मेडिकल कॉलेज हास्पिटल परिसर में एकरूपता झलकनी चाहिए, इसलिए रंगों का चुनाव इसी आधार पर करें। भवन के गेट का प्लान कर लें। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल भवन का काम सबसे पहले पूरा करना प्राथमिकता है।

इसलिए सबसे ज्यादा फोकस इस कार्य पर करें। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य तय समय पर पूरा करना है लेकिन इसके लिए गुणवत्ता से समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने सिविल विभाग से इलेक्ट्रिक विभाग को समन्वय के साथ कार्य करने कहा। उन्होंने कहा कि बीते महीने दिए गए निर्देशों के मुताबिक नियमित रूप से मासिक कार्ययोजना बनाएँ। 30 जनवरी तक एक फ्लोर का काम समाप्त कर दें।

अधिकारियों ने बताया कि फसल कटाई के समय लेबर की कुछ दिक्कत हुई थी लेकिन अब लेबर पर्याप्त हैं और काम काफी तीव्र गति से चल रहा है। उन्होंने एसी डक्ट, फायर फाइटर आदि इंतजामात के संबंध में भी जानकारी ली। श्री मूणत ने कहा कि आडिटोरियम में एकास्टिक का विशेष ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि 30 जनवरी के पश्चात वे पुन: मेडिकल कॉलेज हास्पिटल के निरीक्षण में आएंगे। इस समय तक कार्ययोजना के अनुरूप कार्य तैयार रखें। इसके साथ ही लेबर की वजह से या अन्य तकनीकी दिक्कतों की वजह से हुए विलंब के कार्यों को भी इस अवधि तक समाप्त करना है।

श्री मूणत ने कहा कि इमारत का तय समयावधि पर निर्माण सर्वोच्च प्राथमिकता है अतएव युद्धस्तर पर कार्य करें। यदि लेबर बढ़ाने की जरूरत है तो लेबर बढ़ाएं। किसी तरह की तकनीकी समस्या है तो शासन स्तर पर चर्चा करें, इसका तुरंत समाधान किया जाएगा। काम दोनों पालियों में हो ताकि तय समयावधि में गुणवत्तापूर्ण निर्माण कार्य पूरा किया जा सके।

उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य पूरा करने के लिए जो कार्ययोजना बनाएं, उसमें सिविल, इलेक्ट्रिकल एवं अन्य संबंधित सेक्शन के विशेषज्ञ बैठें ताकि निर्माण कार्य की प्रगति के दौरान कोई ऐसी समस्या न आए जिससे निर्माण कार्य कुछ पिछड़ जाए। इस दौरान महापौर श्री मधुसूदन यादव, राजगामी संपदा न्यास के पूर्व अध्यक्ष श्री संतोष अग्रवाल, पीडब्ल्यूडी के चीफ इंजीनियर श्री एसके शर्मा, अधीक्षण अभियंता श्री एके चक्रवर्ती, कार्यपालन अभियंता श्री समय लाल एवं अन्य अधिकारी उपस्थित

Back to top button