पार्टी के पदनाम से मोहभंग नहीं आचार संहिता का हो रहा है उल्लंघन

निर्वाचन आयोग को तत्काल इस पर ध्यान देते हुए पदनाम वाले गाड़ी से हटाना चाहिए

जैजैपुर। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव का शंखनाद हो चुका है जिसमें की सभी जगह 6 अक्टूबर से आचार संहिता लागू हो गया है।

उसके बाद भी पार्टी के प्रतिनिधियों के द्वारा अपने पद से मोहभंग नहीं हो रहा है। अपने फोर व्हीलर में आज भी पार्टी का पदनाम लगा हुआ है,

जबकि सशक्त आदेश है कि आदर्श आचार संहिता लागू होने के पश्चात पार्टी का पद गाड़ी में नहीं लगा सकते। फिर भी शासन की अनदेखी करते हुए आज फोर व्हीलर में पदनाम की गाड़ी दौड़ रही है।

निर्वाचन आयोग को तत्काल इस पर ध्यान देते हुए पदनाम वाले गाड़ी से हटाना चाहिए तथा उनके खिलाफ कार्यवाही करना चाहिए।

पूर्व भी जिला सदस्य के पद पर रहने वाली सावित्री जाटवर ने आचार संहिता का उल्लंघन किया था ,जो आज भी सावित्री जाटवर के द्वारा अपने भाजपा के महामंत्री पद का गाड़ी का दुरुपयोग कर रहे हैं। प्रशासन को ध्यान देते हुए पद नाम वाले सभी गाड़ियों से हटाया जाना चाहिए।

Back to top button