रिम्स चिकित्सालय से सभी 9 छात्राओं को किया गया डिस्चार्ज

मध्यान भोजन के बाद बीमार पड़ने की उडी थी अफवाह

रिम्स चिकित्सालय से सभी 9 छात्राओं को किया गया डिस्चार्ज

रायपुर: आरंग इलाके के गोढ़ी में मध्यान भोजन खाने के बाद करीब एक दर्जन से अधिक बच्चों के तबियत बिगड़ने का मामला सामने आया था. ऐसे में अब जिला प्रशासन ने इस पुरे मामले का खंडन किया है.

जिला प्रशासन की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक बच्चों ने बेहोश होने के पहले मध्यान भोजन नहीं किया था. वहीँ बीमार सभी बच्चों को नजदीक के रिम्स अस्पताल में भेजा गया था जहाँ से उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है.

इस मौके पर चिकित्सालय में विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारी और उनकी टीम ने भी पहुंचकर छात्राओं के स्वास्थ्य की जानकारी ली। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. के. एस. शांडिल्य ने बताया कि सभी छात्राएं स्वस्थ्य है और उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज भी कर दिया गया है।

उन्होंने कहा कि शाला के विद्यार्थियों ने उस समय तक मध्यान्ह भोजन नही खाया था। अतः यह कहा जाना सही नही है कि मध्यान्ह भोजन खाने करने के बाद छात्राओं की तबियत खराब हुई। बहरहाल इस पुरे मामले में जो खबर आई थी वो ये थी कि मध्यान भोजन करने के बाद छात्राओं की तबियत खराब हुई थी. हालाँकि जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने इसका खंडन कर दिया है

Back to top button