समस्याओं के मेरिट पर काउंसिल से चर्चा कर निकालेंगे समाधान : टी एस बाबा

रायपुर: भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (फिक्की) ने एक होटल में जीएसटी पर सेमिनार आयोजित किया । जीएसटी अर्थात वस्तु एवं सेवा कर के लाभ,चुनौतियां एवं आगे के मार्ग प्रशस्ति के उपाय पर विस्तृत चर्चा हुई ।

इस चर्चा में भाग लेने के लिए सभी उद्योगपतियों को एकत्र किया था। इनमें उरला इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्विन गर्ग सहित उरला इंडस्ट्री के विभिन्न उद्योग अपनी सहभागिता दी।

उपस्थित जनों ने वस्तु एवं सेवा कर के लाभ भी गिनाए। इसमें आने वाली चुनौतियों को बताते हुए अपनी अपनी बातें रखीं । उन चुनौतियों से निपटने के लिए तथा उसमें उचित मार्ग क्या हो इस पर पूर्ण चर्चा हुई।

भीष्म आहलूवालिया विधिक सलाहकार से चर्चा

इस चर्चा में विभाग के वरिष्ठ मंत्री छ ग शासन टी एस सिंह देव, छ ग वस्तु एवम सेवा कर के प्रिंसिपल कमिश्नर श्री बी बी महापात्रा , स्टेट जी एस टी कमिश्नर रमेश शर्मा – आई ए एस, एवं इस विषय के विशेषज्ञ अधिवक्ता भीष्म आहलूवालिया विधिक सलाहकार से चर्चा की। इन सभी ने अपने अपने विचारों से इन उद्योगपतियों को अवगत कराया ।

टी एस सिंहदेव ने इस विषय पर होने वाली समस्याएं एवं उनकी चुनौतियां से कैसे बेहतर ढंग से निपटा जा सकता है, स्वीकार्य उपाय क्या हो इन्हे अपनाने की सलाह दी। उसके लिए उद्योगपतियों विचार भी मांगे, जिससे वह जीएसटी काउंसिल के समक्ष इसे एकीकृत कर रखेंगे । ऐसा उन्होंने अपने वक्तव्य में वादा भी किया ।

जीएसटी कमिश्नर एवं मंत्री जी से अपेक्षा की

एक प्रश्न के उत्तर में अधिवक्ता आहलूवालिया ने कहा कि- इसमें इज ऑफ डूइंग बिजनेस को ध्यान में रखकर जो जो सुधार कार्य करने हैं उसका हम डिटेल देंगे,जिससे इस कार्य को करने के लिए या जीएसटी के साथ चलने के लिए जो आसान तरीके हो अपनाया जा सके। जिसमें किसी भी व्यापारी को किसी भी तरह से तकलीफों का सामना ना करना पड़े। एक मार्ग ऐसा हो जिससे जीएसटी के सभी सुविधाएं भी दूर हो। उनसे बेहतर ढंग से उनका पालन भी हो सके। ऐसी अपेक्षा उन्होंने जीएसटी कमिश्नर एवं मंत्री जी से की।

कार्यक्रम के अंत में आभार प्रदर्शित करने के वक्त छत्तीसगढ़ चैप्टर के चेयरमैन प्रदीप टंडन ने कहा कि इस तरह की वार्तालाप एवं चर्चा से किसी एक आईडियोलॉजी को जो व्यापारियों के लिए लाभप्रद हो उसका मार्ग प्रशस्त होता है।

उपस्थित सभी उद्योगपतियों, वरिष्ठ मंत्री छ ग शासन टी एस सिंह देव जी, छ ग वस्तु एवम सेवा कर के प्रिंसिपल कमिश्नर बी बी महापात्रा , स्टेट जी एस टी कमिश्नर रमेश शर्मा – आई ए एस, एवं इस विषय के विशेषज्ञ अधिवक्ता भीष्म आहलूवालिया विधिक सलाहकार का एवं उपस्थित पत्रकार बंधुओं का आभार व्यक्त किया।

Tags
Back to top button