27 दिसंबर को लोकसभा में होगी मुस्लिम महिला विधेयक 2018 पर चर्चा

बीजेपी ने अपने सभी सांसदों को उपस्थित रहने के लिए व्हिप जारी की

नई दिल्लीः लोकसभा में कल 27 दिसंबर नवंबर को मुस्लिम महिला विधेयक(ट्रिपल तलाक) 2018 पर चर्चा की जाएगी. ऐसा माना जा रहा है कि बहस के बाद तीन तलाक बिल पर वोटिंग भी हो सकती है.

इसीलिए बीजेपी ने अपने सभी सांसदों को उपस्थित रहने के लिए व्हिप जारी की है. संसदीय कार्य मंत्री विजय गोयल ने इसकी पुष्टि की है. बता दें कि लोकसभा में बीजेपी के पास अकेले ही बहुमत से ज्यादा 271 सांसद हैं.

वैसे तो ट्रिपल तलाक़ बिल लोकसभा में 28 दिसंबर 2017 को पास किया गया था, लेकिन 10 अगस्त 2018 को ये बिल राज्यसभा में बिल पारित नहीं हो सका था.

राज्यसभा ने इसे कुछ संशोधनों के साथ वापस कर दिया था. अब संशोधन के बाद क़ानून के लिए इस बिल का लोकसभा से पास होना जरूरी है. बिल में पहले जमानत का प्रावधान नहीं था, अब इसे जोड़ा गया है. अब सरकार नए सिरे से बिल लेकर आई है. 19 सितंबर 2018 को केंद्र सरकार ने ट्रिपल तलाक़ पर अध्यादेश लागू किया था.

इससे पहले 20 दिसंबर को ये विधेयक विधायी कार्य का हिस्सा था, जिसे लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे के आग्रह पर टाल दिया.

सुमित्रा महाजन द्वारा रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी (आरएसपी)सांसद एन.के. प्रेमचंद्रन को विधेयक पर बोलने के लिए कहने के तुरंत बाद खड़गे खड़े हुए और चर्चा को 27 दिसंबर तक टालने के लिए आग्रह किया.

advt
Back to top button