मक्का मस्जिद बम धमाके में फैसला सुनाने वाले जज का इस्तीफा नामंज़ूर

मक्का मस्जिद बम धमाके मामले में सभी आरोपियों को बरी करने का फैसला सुनाया था

हैदराबाद: 11 साल पुराने मक्का मस्जिद बम धमाके मामले में फैसला सुनाते हुए जज रवींद्र रेड्डी ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया. जिसके बाद खबर आई की फैसला सुनाने वाले जज रवींद्र रेड्डी ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए अपना इस्तीफा दे दिया था. जिसके बाद तरह तरह के कयास लगाए जा रहे थे की उन्होंने इस्तीफा क्यों दे दिया.

अब खबरे आ रही हैं की जज रवींद्र रेड्डी का इस्तीफा नामंज़ूर कर उनसे छुट्टी खत्म कर काम पर वापस आने को कहा गया हैं. गौरतलब है की मक्का मस्जिद मामले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व सदस्य तथा साधु स्वामी असीमानंद समेत पांच अभियुक्तों को बरी किया गया था. बता दे की स्वामी असीमानंद का नाम तीन आतंकवादी हमलों से भी जोड़ा जाता रहा है.

मामले में जज ने कहा एनआईए अपनी जाँच में आरोपियां की भूमिका सिद्ध नहीं कर पाया इस लिए आरोपियों को बरी कर दिया गया. बता दे की मक्का मस्जिद बम धमाके में 9 लोगों की मौत और 50 से ज़्यादा ज़ख्मी हुए थे.

Back to top button