छत्तीसगढ़

गरीब बच्चों को नये वस्त्र वितरित कर बांटी खुशियाँ

दीपावली सत्य पर असत्य की विजय कहे जाने वाले इस त्यौहार पर खुशियाँ और उल्लास उन लोगों के चेहरों पर ही दिखाई देता है जिनके पास पैसे होते हैं।
खुशियों पर तो सबका अधिकार होना चाहिए और गरीबों के चेहरों पर भी खुशियाँ दिखे यह सोचकर चरामेति कम्युनिटी एजुकेशन रिसर्च एन्ड ट्रेनिंग इन्स्टीट्यूशन फोर यूथ की रायपुर टीम द्वारा ज़रूरतमंदों गरीबों और छोटे बच्चों को नये टी शर्ट और फ्राक वितरित किये गये। टीम में राजेंद्र ओझा, प्रेम साहू, नरेन्द्र गिरी गोस्वामी, निशांत जाम्बुलकर, दिलेश्वर गढेवाल एवं अजय गढेवाल शामिल थे जिन्होंने आमापारा, रायपुर रेलवे स्टेशन, भैंस स्थान आदि जगहों पर 18 तारीख की रात एवं 19 तारीख की सुबह राजेंद्र नगर, व्ही आई पी रोड स्थित श्री राम मंदिर द्वारा संचालित बाल आश्रम में निवासरत बच्चों को वस्त्र वितरित किये गये।
चरामेति फाउंडेशन द्वारा विगत दो वर्षों से दीपावली पर बच्चों एवं ज़रूरतमंदों को नये वस्त्र और मिठाईयाँ वितरित की जाती है। इस वर्ष रायपुर के अतिरिक्त बिलासपुर एवं कोरबा में भी कुल मिलाकर करीब 1500 लोगों को इसी तरह खुशियाँ बांटी गयी। संस्था का विचार है कि ऐसे ही छोटे-छोटे प्रयासों से ही बडे वर्ग को लाभान्वित किया जा सकता है।
दीपावली के पूर्व नये कपड़े पाकर बच्चों के चेहरों पर खुशी फैल गई और उनके माता-पिता भी अपने बच्चों को नये कपड़े में देखकर प्रसन्न हुए। बच्चों के अतिरिक्त जरूरतमंद गरीबों को भी नये वस्त्र वितरित किये गये। मानवता की निःस्वार्थ सेवा के लिए चरामेति फाउंडेशन बच्चों और ज़रूरतमंदों की सहायता के लिए सदैव तत्पर रहता है।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *