जिला बिल्डिंग ठेकेदार एसोसिएशन की बैठक हुई संपन्न

ब्युरो चीफ : विपुल मिश्रा

संवाददाता : प्रणव कुमार

जिला बिल्डिंग ठेकेदार एसोसिएशन की बैठक होटल इंटरसिटी में संपन्न हुई। सबसे पहले दीप प्रज्वलित किया गया उसके पश्चात विश्वकर्मा जी के तैल चित्र पर माल्यार्पण किया गया। जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में आई आई ए बिलासपुर आर्किटेक्ट संघ के चेयरमैन देवाशीष घटक जी आर्किटेक्ट संघ के वाइस प्रेसिडेंट श्री श्याम शुक्ला जी आर्किटेक्ट संघ के सह सचिव सुमित अग्रवाल जी कार्यकारिणी सदस्य विवेक यादव जी कार्यकारिणी सदस्य मोहनीश साहू जी साथ में जिला बिल्डिंग ठेकेदार एसोसिएशन के सभी पदाधिकारी गण शामिल हुए मुख्य अतिथि देवाशिष् घटक जी ने तीन महत्वपूर्ण बिंदुओं पर प्रकाश डाला घटक जी ने कहा कि हमारे विश्वकर्मा ठेकेदार है जो घर बनाते है कमांडर और फौजी का उदाहरण देते हुए कहा कि जिस तरह एक कमांडर अपने फौजी को दिशा निर्देश करता है और शाम को कार्य संपन्न होने के बाद उसके साथ बहुत ही परिवारिक माहौल में शामिल हो जाता है। वैसे ही ठेकेदारों को काम दिया जाता है और ठेकेदार उनको उतने ही ईमानदारी से करते हैं उन्होंने म्यूजिक का भी उदाहरण देते हुए कहा कि किस तरह से एक म्यूजिक सिखाने वाला अपने हाथ को हिलाते हुए बारीकी से म्यूजिक सीखने वालों को सिखाता है घटक जी ने यह भी कहा कि आप अपने आप को कभी छोटा ना समझे अपने आप को छोटा समझना सबसे बड़ा पाप है उन्होंने कहा की आर्किटेक्ट और ठेकेदार गुरु और शिष्य के समान है जिस तरह से गुरु अपने शिष्यों को डांट कर सिखा कर उनको काबिल बनाता है वैसे ही एक आर्किटेक्ट अपने ठेकेदार को सिखा कर बहुत अच्छा ठेकेदार बनाते हैं ।उन्होंने बताया कि ठेकेदार और आर्किटेक्ट दोनों ही एक सिक्के के दो पहलू हैं और एक दूसरे के पूरक है इनके बिना कोई काम संपन्न नहीं हो सकता उन्होंने सभी ठेकेदारों को नई टेक्नोलॉजी के बारे में काम करने को कहा विशिष्ट अतिथि सम्माननीय श्याम शुक्ला जी ने ठेकेदारों को महत्वपूर्ण बिंदुओं पर दिशा निर्देश दिया श्याम शुक्ला साहब ने बताया की समय के साथ चलना होगा आज नए-नए टेक्नोलॉजी आ गई है हमारा सबसे बड़ा गुरु हमारा मोबाइल है आप उसमें जो चाहे बिल्डिंग के बारे में सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं छोटी बड़ी मशीनें कहां से प्राप्त होगी यह भी आप जान सकते हैं सिर्फ ठेकेदारों का अपना व्यवहार तरीका और अपनी लाइन को बड़ा करने की जरूरत है आज के भागदौड़ की जिंदगी में तेजी से मकान बनाने का प्रेशर है अपने काम और अपने किए हुए काम के बदले दाम को बराबर लेते रहें क्योंकि वह आपका हक है काम लेने से पहले सभी रेट को फाइनल कर ले कि किस किस तरह का ड्राइंग डिजाइन किया गया है ड्राइंग डिजाइन के आधार पर रेट तय होना चाहिए प्लिंथ का रेट तय होना चाहिए डोर लेटर तक का रेट क्या होना चाहिए का प्लेन टिकट कितना पैसा लोगे वह क्लियर होना चाहिए वरना छोटी छोटी बातें बड़ी समस्याएं बन जाती हैं उन से बच सकते हैं उन्होंने बताया कि मकान का रेट मकान के स्ट्रक्चर के हिसाब से तय होना चाहिए 1000 स्क्वायर फीट के दो मकान बनते हैं एक में 20 दीवार होती है और एक में सिर्फ चार दिवार बनते हैं और दोनों का रेट सामान रहेगा तो जिसमें 20 दीवार होगी वह ठेकेदार निश्चित रूप से घाटे में चले जाएगा इतनी बारिश से उन्होंने ठेकेदारों को सरल भाषा में समझाया ऐसा लगा ही नहीं कि एक आर्किटेक्ट और ठेकेदारों की बैठक है उनकी बातों से लग रहा था कि वह स्वयं ठेकेदार हैं और इन सब बातों के इतनी बारीकी से जानते हैं कार्यक्रम की अध्यक्षता चंद्र प्रकाश सूर्या जिला बिल्डिंग ठेकेदार ने किया उन्होंने सभी अतिथियों का स्वागत किया एवं मुख्य अतिथि एवं अति विशिष्ट अतिथि का जीवन परिचय सभी ठेकेदारों को भाइयों को बताया और उन्होंने ठेकेदारों की सभी समस्याओं को उनके सामने रखा आए हुए सभी अतिथियों ने एक के बाद एक अपनी बातों को बड़े ही गंभीरता पूर्वक बताएं आज के कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष चंद्रप्रकाश सूर्या के साथ राजेंद्र बघेल जी विजय बघेल सूरज साय गुड्डा साहू त्रिलोचन साहू साहूकार भास्कर मधु गुजराल सुरेंद्र मनोज वीरेंद्र धर्मेंद्र कौशिक लव सूर्या आदि ठेकेदार भाई शामिल हुए हरीश देवांगन थानु राम साहू पंकज गुप्ता हरीश साहू इकराम खान लाला साहू द्वारका साहू संतोष दुर्गेश ओम प्रकाश आदि ठेकेदार भाई शामिल हुए

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button