ब्रांड एंबेसडर बने दिव्यांग गौरव गुप्ता, इस कंपनी ने की घोषणा

सौरव ने अपनी मेहनत से यह साबित कर दिया

नई दिल्ली :

15 साल की उम्र में एक दुर्घटना के बाद पैरालाइज्ड हो गए दिव्यांग सौरव गुप्ता को प्रीमियम इनरवियर ब्रांड ला इंटिमो ने अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के अवसर पर ब्रांड अंबेसडर बनाने की घोषणा की।

सौरव दुर्घटना के बाद अपने मॉडल बनने के सपने से दूर हो गए थे। लेकिन सौरव ने शारीरिक अक्षमता को अपने सपने के बीच नहीं आने दिया। यह उनकी कठिन मेहनत का ही नतीजा है कि आज वह न:न सिर्फ एक मॉडल हैं बल्कि ला इंटिमो के ब्रांड एम्बेसडर भी हैं।

उसने कहा कि सौरव ने अपनी मेहनत से यह साबित कर दिया है कि जिद के आगे जीत है और वो स्टबॉर्न सोल्स (कभी हार न मानने वाले) के जीवंत उदाहरण हैं। सौरव ने अपनी सफलता से ये साबित किया है कि विकलांगता सिर्फ एक मनोदशा मात्र है।

ला इंटिमो के प्रबंध निदेशक योगेश मित्तल ने यह घोषणा करते हुये कहा कि दिव्यांगों को रैंप पर अपना हुनर दिखाने का मौका मिले। यह अभी सिर्फ इस बात की शुरुआत है कि फैशन और विकलांगता को एक साथ कैसे लाया जाये। उनकी कंपनी अपनी अपने इस पहल के साथ फैशन-जगत में भी इस विचारधारा का संचार करना चाहती है।

Back to top button