राष्ट्रीय

पटाखों पर बैन के बावजूद हुई आतिशबाजी, 10 गुना बढ़ा प्रदूषण का स्तर

दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट की ओर से पटाखों की बिक्री पर रोक लगाने का कोई असर नहीं देखा गया। दिवाली की रात राष्ट्रीय राजधानी में जमकर आतिशबाजी की गई जिससे धुंध छा गई। शहर के प्रदूषण निगरानी स्टेशन के ऑनलाइन संकेतक ने हवा की गुणवत्ता बहुत खराब बताई क्योंकि शाम करीब सात बजे पीएम 2.5 और पीएम 10 की मात्रा हवा में तेजी से बढ़ गई।

यह कण श्वसन प्रणाली में चले जाते हैं और ब्लडस्ट्रेम में पहुंच जाते हैं। दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) के आर के पुरम निगरानी स्टेशन ने रात करीब 11 बजे पीएम 2.5 का स्तर 878 माइक्रोग्राम पर क्यूबिक मीटर और पीएम 10 का स्तर 1,179 माइक्रोग्राम पर क्यूबिक मीटर था।

प्रदूषक ने 24 घंटे के दौरान सुरक्षा की सीमा का 10 गुणा तक उल्लंघन किया जो क्रमश: 60 और 100 होनी चाहिए थी।

Summary
Review Date
Reviewed Item
सुप्रीम कोर्ट
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *