अजब गजबछत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ के इस गाँव में 7 दिन पहले मनाई गई दिवाली

रायपुर : देशभर में दिवाली 19 अक्टूबर को मनाई गयी. जिसकी रौनक चारों तरफदेखते ही बनी. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर दिवाली के अलावा तीन और त्योहार हफ्ते भर पहले ही मना लिए जाते हैं वो भी उतने ही चाव से. जी हाँ आज हम आपको छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले के कुरूद विकासखंड की ग्राम पंचायत सेमरा सी में दीपावली 12 अक्टूबर तो गोवर्धन पूजा का पर्व 13 अक्टूबर को मना लिया गया. इस गांव के लोगों का कहना है कि यहां पर 4 त्योहारों के तारीख से एक हफ्ते पहले मनाने की परंपरा है. इन त्योहारों में दिवाली, होली, हरेली और पोला शामिल है. अभी तक किसी ने भी इस परंपरा से मुंह नहीं मोडा़.
सभी को एकता के सूत्र में पिरोता है सेमरा सी : 
ग्राम पंचायत सेमरा सी के सरपंच सुधीर बललाल ने कहा कि, सेमरा सी का यह अनूठा पर्व सभी को एकता के सूत्र में पिरोता है. 15 सौ की आबादी वाला यह गांव दीपोत्सव में 5 से 6 हजार की आबादी में तब्दील हो जाता है. दूर-दूर से सभी के नाते-रिश्तेदार और आस-पास के गांववासी सेमरा सी आते हैं. खुशियां बांटते हैं. सभी मिलकर पर्व मनाते हैं. सेमरा सी में 12 अक्टूबर को लक्ष्मी पूजा और 13 अक्टूबर को गोवर्धन पूजा का पर्व मनाया गया. इस बार सेमरा सी के त्यौहार में कांकेर जिले के चारमा कसावाही और दुर्ग जिले के तेड़ेसरा से नाचा पार्टी पहुंची थी. गांव में रात्रि को दो दिवसीय नाचा कार्यक्रम हुआ. 12 अक्टूबर को ग्रामवासियों ने अपने-अपने घरों में लक्ष्मी पूजा की.
मध्य रात्रि निकली गौरा-गौरी का जुलूस : 
बललाल ने कहा कि, 12-13 अक्टूबर की मध्यरात्रि 3 बजे गौरा-गौरी का जुलूस गांव में निकला. सुबह 8 बजे विसर्जन हुआ. ग्राम देवता सिरदार देव के मंदिर प्रांगण में 13 अक्टूबर की शाम गोवर्धन पूजा हुई. पूजा के बाद गांव के राउतों ने अपने-अपने गौवंश के पशुओं को सौहाई बांधी. गाय को खिचड़ी खिलाई गई. रात्रि नाचा का कार्यक्रम हुआ.
सरपंच-पूर्व सरपंच ने दी शुभकामनाएं : 
ग्राम पंचायत सेमरा सी के सरपंच सुधीर बललाल और पूर्व सरपंच घनश्याम देवांगन ने दीपोत्सव के पर्व दीपावली पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी है. उन्होंने कहा कि, पूरे देश में जहां दीपावली आज मनाई जा रही है वहीं गांव की परंपरा अनुसार एक सप्ताह पूर्व ही सेमरा सी में दीपावली मनाई गई. दीपोत्सव के इस पर्व को परंपरानुसार मनाने गांव के सभी लोग एकजुट हैं. उन्होंने देशवासियों से हर्षों-उल्लास, भाईचारे के साथ दीपावली मनाने की बात कही है.
Summary
Review Date
Reviewed Item
छत्तीसगढ़ के इस गाँव में 7 दिन पहले मनाई गई दिवाली
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *