जल्द शुरू होगा डीकेएस सुपर-स्पेशिलिटी अस्पताल चंद्राकर ने किया निरीक्षण

रायपुर : स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री अजय चन्द्राकर ने आज यहां राजधानी रायपुर में शासकीय सेक्टर में बन रहे राज्य के प्रथम डीकेएस सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। यह अस्पताल प्रदेश में शासकीय सेक्टर में बनने वाले पहला सुपर-स्पेशिलिटी अस्पताल होगा और जल्द ही धरातल पर दिखने लगेगा।

चन्द्राकर ने आज वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारियों के साथ आईसीयू, पीडियाट्रिक वार्ड, कैजुअल्टी वार्ड बर्न वार्ड, डायलिसिस कक्ष, ट्रामा सेन्टर, एमआईआर रूम, पेईंग वार्ड और ऑपरेशन एरिया सहित सभी वार्ड का जाएजा लिया। चन्द्राकर ने इस मौके पर सुपर-स्पेशिलिटी अस्पताल को जल्द शुरू करने लिए अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करते हुए निर्धारित समय-सीमा में उपकरणों की खरीदी सहित मानव संसाधान की व्यवस्था और अस्पताल जीर्णोद्धार कार्य तेजी से करने के निर्देश दिए।

निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने बताया कि सुपर-स्पेशिलिटी अस्पताल के जीर्णोद्धार कार्य लगभग अंतिम चरण पर है। उपकरणों की भी स्थापना की जा रही है। अधिकारियों ने बताया कि आगमी माह के एक मई 2018 तक वेंडरों द्वारा सिविल कार्य पूर्ण कर अस्पताल प्रबंधन को सौंपने की तैयारी है। डीकेएस सुपर-स्पेशिलिटी अस्पताल का काम लगभग पूरा हो गया है। चन्द्राकर ने निरीक्षण भ्रमण के दौरान अधिकारियों से कहा कि जनहित से जुड़ी सेवाओं के लिए सरकार के पास पैसे की कोई कमी नहीं है।

उन्होंने अस्पताल को प्राइवेट सेक्टर के अस्पतालों से भी बेहतर बनाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि सुपर स्पेशलिटी अस्पताल चिकित्सा सुविधाओं के मामले में आधुनिक होगा। अस्पताल उच्च गुणवत्ता के चिकित्सा उपकरणों से सुसज्जित हो रहा है, जिसका फायदा छत्तीसढ़ की जनता को मिलेगा। उन्हांेने कहा अस्पताल में मरीजों के इलाज के लिए सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध होगी। चन्द्राकर ने सुपर-स्पेशिलिटी अस्पताल के बेहतर संचालन के लिए विशेषज्ञों पैरा मेडिकल स्टॉफ की नियुक्ति पर बल दिया।

स्वास्थ्य मंत्री चन्द्राकर ने कहा कि सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल को शुरू करने लिए संबंधित सभी विभागों के अधिकारी प्राथमिकता और समन्वय के साथ कार्य करें। यदि अस्पताल जीर्णोद्धार कार्य में कोई समस्या आ रही हो तो अधिकारी आपस में विचार-विमर्श कर शीघ्र समस्या का निराकरण करे। अधिकारियों ने बताया कि सुपर-स्पेशिलिटी अस्पताल के निर्माण कार्य तेजी से किए जा रहे है और अस्पताल के विभिन्न वार्डों में चिकित्सा उपकरण भी स्थापित किए जा रहे हैं।

इस मौके पर स्वास्थ्य विभाग के सचिव निहारिका बारिक, संचालक स्वास्थ्य सेवाएं रानू साहू, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के संचालक डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे, संचालक चिकित्सा शिक्षा डॉ. एके चन्द्राकर, छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कॉर्पोरेशन (सीजीएमएससी) के प्रबंध संचालक वी. रामाराव, डीकेएस सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल के अधीक्षक डॉ. पुनीत गुप्ता, डॉ. भीमराव अम्बेडकर अस्पताल के अधीक्षक डॉ. विवेक चौधरी और सहित संबंधित वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Back to top button