रक्षा और सुरक्षा को चुनाव से नहीं जोड़ें- राजनाथ सिंह

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से एंटी सैटेलाइट मिसाइल के सफल परीक्षण की घोषणा को लेकर विपक्ष के आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है। उन्होंने गुरुवार को हिन्दुस्तानसे खास बातचीत में कहा कि इतनी बड़ी उपलब्धि का ऐलान केवल प्रधानमंत्री ही कर सकते हैं।

साथ ही कहा कि रक्षा और सुरक्षा पर सियासत नहीं की जानी चाहिए। गृहमंत्री ने कहा, ‘प्रधानमंत्री मोदी ने ही इस अति महत्वपूर्ण शोध को मंजूरी दी थी। इसलिए उन्हें पूरा अधिकार है कि वह राष्ट्र को इसकी जानकारी दें। इस उपलब्धि को हासिल कर विशिष्ट देशों के क्लब में शामिल होना भारत के लिए गौरव का विषय है। बुधवार सुबह तक इस क्लब में केवल तीन देश शामिल थे।’

विपक्ष की ओर से चुनाव आचार संहिता लागू होने का हवाला देने पर राजनाथ सिंह ने पलटवार किया। उन्होंने कहा कि यह घटना अभूतपूर्व थी। प्रधानमंत्री परियोजना की संवेदनशीलता और देश के रक्षा हितों से अवगत थे। जब डीआरडीओ ने परियोजना की इजाजत मांगी तो उन्होंने तुरंत इसकी मंजूरी दे दी। राजनाथ ने कहा कि यह घटनाक्रम कुछ दिनों या हफ्तों में नहीं हुआ, बल्कि हमारे वैज्ञानिक दिन-रात इस पर काम कर रहे थे। कोई भी रक्षा और सुरक्षा से जुड़े मामले को चुनाव से नहीं जोड़ सकता है।

कांग्रेस पर कड़ा प्रहार

राजनाथ सिंह ने कहा कि डीआरडीओ के पूर्व प्रमुख ने खुलासा किया है कि कांग्रेस नेतृत्व वाली यूपी सरकार ने 2012 में ए-सैट मिसाइल के परीक्षण के इस प्रस्ताव को मंजूरी नहीं दी थी। लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने बिना देर किए इसे हरी झंडी दी।

एनडीए में एकता की प्रतिबद्धता
राजनाथ सिंह ने कहा, ‘हम एनडीए की एकता के लिए प्रतिबद्ध हैं। एनडीए में घटक दल मजबूरी की वजह से साथ नहीं हैं। हमें पता है कि भाजपा को अकेले अपने दम पर बहुमत हासिल होगा, लेकिन सरकार एनडीए की बनेगी।’

नेतृत्व पर संशय नहीं

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने दो टूक कहा कि नरेंद्र मोदी एनडीए के सर्वमान्य नेता हैं और किसी अन्य के नेतृत्व का सवाल ही नहीं उठता। सभी पार्टी सदस्यों और सहयोगी दलों को मोदी पर भरोसा है।

अगले कार्यकाल में आतंक का खात्मा होगा

राजनाथ सिंह ने नक्सलवाद और पूर्वोत्तर में उग्रवाद को खत्म करने के लिए उठाए गए कदमों पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने दावा किया कि जम्मू-कश्मीर में शांति की वापसी हो रही है और अगले कार्यकाल में उनकी सरकार राज्य से आतंकवाद का खात्मा कर देगी।

Back to top button