भूलकर भी ना करें ये गलतियां, नहीं तो पड़ सकता है सेहत पर भारी

सेहतमंद और तंदुरुस्‍त जीवन जीने के लिए लोग अक्सर कुछ ना कुछ नई आदते अपनाते हैं। जो कि उनकों फायदा देने के बजाय उनके शरीर को ओर खराब कर देता है

सेहतमंद और तंदुरुस्‍त जीवन जीने के लिए लोग अक्सर कुछ ना कुछ नई आदते अपनाते हैं। जो कि उनकों फायदा देने के बजाय उनके शरीर को ओर खराब कर देता है।

इसका परिणाम ये होता है कि आपका मोटापा बढ़ने लगता हैं, और आप कई तरह की बीमारियों से पीडित हो जाते हैं। इसका सीधा असर आपके दैनिक जीवन में देखने को मिलता है। चलिए आपको बताते हैं कि आपकी अच्छी समझी जाने वाली कौन-सी आदतें सेहत को नुकसान पहुंचाती है।

गलत तरीके से वजन घटाना

वजन कम करने के लिए अक्सर लोग भोजन करना ही छोड़ देते हैं, जोकि गलत है। भोजन ना करने से शरीर में कैलोरी व ऊर्जा की कमी हो जाती है। इससे मेटाबॉलिक रेट धीमा हो जाता है, जिससे वजन कम होने की बजाए बढ़ जाता है। साथ ही इससे कई बीमारियां भी आपको घेर लेती हैं।

पर्याप्त नींद ना लेना

पर्याप्त नींद ना लेने से ना सिर्फ मेटाबॉलिज्म धीमा होता है ब्लकि इससे चिड़चिड़ापन, हृदय रोग, उच्च रक्तचाप, वजन और मधुमेह जैसी समस्याएं भी बढ़ने लगती हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि आप दिनभर में से कम से 7-8 घंटे की पर्याप्त नींद लें, ताकि आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रहे।

छोटी-छोटी बातों पर तनाव लेना
ज्यादा टेंशन, तनाव, स्ट्रेस लेने के कारण दिमाग पर बुरा असर पड़ता है, जिससे आप डिप्रैशन या माइग्रेन के शिकार हो सकते हैं। इतना ही नहीं, ज्यादा तनाव आपको चिड़चिड़ा और गुस्सैल बना देता है। इसके अलावा तनाव का मेटाबॉलिक रेट पर नकारात्मक असर पड़ता है, जिससे कैलोरी बर्न होने में समय लगता है।

मीठे का अधिक सेवन

अधिक मीठे का सेवन ना सिर्फ आपका वजन बढ़ता है बल्कि इससे दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। अगर आप भी स्वस्थ रहना चाहते हैं तो अपनी डाइट से मीठे को आउट करें

ब्रेकफास्ट स्किप करना

सुबह लेट उठना, ऑफिस जाने की जल्दी, भूख ना लगना या डाइटिंग के चक्कर में अक्सर लोग नाश्ता नहीं करते, जोकि सेहत के लिहाज से गलत है। ब्रेकफास्ट ना करने से वजन बढ़ना, हार्ट डिजीज, डायबिटीज और स्ट्रेस जैसी बीमारियां हो सकती है इसलिए सुबह उठने के 1 घंटे के अंदर ब्रेकफास्ट कर लें।

गलत तरीके से दवाई लेना

पेट दर्द या सिरदर्द के लिए अक्सर महिलाएं ठंडे पानी के साथ पेनकिलर ले लेती हैं लेकिन गर्म पानी के साथ गोली खाने से वह जल्दी असर करती है। 70 प्रतिशत मामलों में एक गिलास गर्म पानी के साथ किसी भी पेनकिलर का सेवन ज्यादा फायदेमंद होता है।

टॉयलेट में मोबाइल लेकर जाना

मोबाइल का क्रेज आजकल इतना बढ़ गया है कि लोग बाथरूम में भी इसका पीछा नहीं छोड़ते। मगर आपको बता दें कि टॉयलेट सीट पर कई तरह के छोटे-छोटे बैक्टीरिया चिपके होते हैं, जो इन डिवाइस चिपक जाते हैं और इन्हें धोया या साफ भी नहीं किया जा सकता।

ऐसे में ये बैक्टीरिया हाथों के जरिए शरीर में जाकर पेट दर्द, पेट में इंफैक्शन, फूड प्वाइजनिंग जैसी परेशानियों का कारण बनते हैं।

Back to top button