गर्भावस्था के दौरान ना दें मां को दुख, नहीं तो बच्चे पर पड़ेगा असर

अगर गर्भावस्था के दौरान अगर मां दुखी रहती है तो इसका बुरा असर बच्चे के दमाग पर पड़ता है.

गर्भ में पल रहे बच्चे पर मां के खानपान और रहन सहन का सीधा असर पड़ता है. इस दौरान गर्भवती महिला के मन में पैदा होने वाली भावनाओं का भी सीधा असर बच्चे पर पड़ता है.

गर्भावस्था के दौरान मां का शरीर काफी नाजुक होता है. इस दौरान उसका शरीर और दिमाग, दोनों बेहद नाजुक होते हैं. कई बार घर में कुछ ऐसा होता है जिससे गर्भवती महिला के मन में नकारात्मक या दुख: के भाव पैदा होते हैं. ऐसा होने से बच्चे पर काफी बुरा असर पड़ता है.

हाल ही में एक ताजा शोध के मुताबिक गर्भावस्था के दौरान अगर मां दुखी रहती है तो इसका बुरा असर बच्चे के दमाग पर पड़ता है. इस शोध में ये बात सामने आई कि गर्भावस्था किसी भी तरह की दुख वाली खबर से पेट में पल रहे बच्चे पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है. जिसके बाद उसे मानसिक बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है.

जानकारों का कहना है कि गर्भावस्था के दौरान महिला को कोई भी बुरी खबर ना मिले इसको पूरी तरह से कंट्रोल नहीं किया जा सकता है. पर हां, खान-पान पर ध्यान देकर और मां का विशेष ख्याल रख बच्चे पर पड़ने वाले हानिकारक प्रभावों को कम किया जा सकता है.

Back to top button