छत्तीसगढ़

बंदूक की भाषा नहीं बोलते हम आदिवासियों के विकास की बात करते हैं : अमित शाह

जगदलपुर।

आज भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने जगदलपुर में बस्तर संभाग के बूथ स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होने कहा हम आदिवासियों के लिए विकास लेकर आए हैं, हम बंदूक की भाषा नहीं बोलते, हम अपने आदिवासी भाइयों के लिए चावल, गैस, बिजली, चरण पादुका, स्वास्थ्य बीमा, वन उपजों के लिए समर्थन मूल्य लेकर हैं। हमारे वनवासी एवं आदिवासी समुदाय के लोगों के कल्याण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार ने विभिन्न योजनाओं की शुरुआत की है।

इसके पहले के अमित शाह मां दंतेश्वरी मंदिर में पहुंचे और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह व अन्य पार्टी पदाधिकारियों के साथ माँ दंतेश्वरी के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया। शाह के उद्बोधन से बूथ प्रभारियों व कार्यकर्ताओं में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ है। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस को मूल से उखाड़ फेंकने का संकल्प लिया।

अमित शाह ने कहा हम बंदूक की भाषा नहीं बोलते हम आदिवासियों के विकास की बात करते हैं. अमित शाह ने कहा हम बंदूक की भाषा नहीं बोलते हम आदिवासियों के विकास की बात करते हैं.

शाह ने कहा कि भाजपा के चुनाव जीतने का आधार हमारे बूथ का कार्यकर्ता है। बूथ का कार्यकर्ता ही इस पार्टी की जान है। मैं भी एक बूथ कार्यकर्ता था और आज राष्ट्रीय अध्यक्ष बनकर आपके सामने खड़ा हूं।

उन्होने कहा कि मै एक सवाल कांग्रेस से पूंछना चाहता हूं कि राहुल बाबा जो नकली सीडी बनाकर छत्तीसगढ़ की माताओं-बहनों को शर्मसार कर रहा है आप उसके नेतृत्व में चुनाव लड़ना चाहते हो? राहुल बाबा हमसे हिसाब मांगते हैं लेकिन मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि कांग्रेस की सरकार ने पिछले 55 सालों में क्या किया है। भाजपा सरकार के विकास कार्यों की सूची बहुत लंबी है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
बंदूक की भाषा नहीं बोलते हम आदिवासियों के विकास की बात करते हैं : अमित शाह
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags