छत्तीसगढ़

युवा न समझे किसी भी रोजगार को छोटा, मेहनत लगन से करें काम : केदार कश्यप

वास्तविक हितग्राहियों को मिले रोजगार मूलक योजना का लाभ

नारायणपुर : आदिम जाति विकास मंत्री केदार कश्यप ने आज जिला मुख्यालय में आयोजित हितग्राही एवं प्रशिक्षणार्थियों के कार्यक्रम में शामिल हुए। मंत्री ने हितग्राहियो को संबोधित करते हुए कहा कि युवा किसी भी रोजगार छोटा नहीं समझे और उसे अपनाने में संकोच न करें। अपनी मेहनत और लगन से अपने रोजगार आगे बढ़ाने का काम करें। मंत्री कश्यप ने लाभान्वित हितग्राहियों से सीधी बातचीत की और उनके व्यवसाय के संबंध में जानकारी ली। कार्यक्रम का आयोजन जिला अंत्यावसायी प्रशिक्षण केन्द्र द्वारा आयोजित किया गया था। उन्होंने कहा कि वास्तविक हितग्राहियों को राज्य सरकार की रोजगारमूलक योजना से जोड़े और उन्हें लाभान्वित करें।

मंत्री केदार कश्यप ने किराना दुकान का व्यवसाय हेतु लिये गये ऋण की समय से पहले लौटाने पर दो लोगों गाण्डोराम बाकुलवाही और मनिषा मरकाम नारायणपुर का साल श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। उन्होंने कहा कि व्यवसाय या उपयोग के लिए गया ऋण लौटाने का दायित्व भी उसी व्यक्ति का होता है। अगर व्यक्ति निर्धारित समयावधि में ऋण वापस कर देता है तो उसकी विश्वसनीयता और बढ़ जाती है। बाद में उसकों को बिना अधिक पूछताछ के संबंधित ऋणदाता द्वारा पुनः उपलब्ध करा दिया जाता है। नारायणपुर जिले में निवासी ऋण लौटाने में अन्य जिलों से आगे है। इसके लिए उन्होंने नारायणपुर वासियों को अपनी बधाई और शुभकामनाएं दी।

आदिम जाति विकास मंत्री केदार कश्यप ने इस अवसर पर पांच हितग्राहियों को टेक्टर की चॉबी सौंपी। इन हितग्राहियों में चार अनुसूचित जनजाति के और एक अनुसूचित जाति से था। कश्यप ने मुख्यमंत्री कौशल विकास से प्रशिक्षण प्राप्त प्रशिक्षणार्थियों के द्वारा तैयार किये गये गण पोषक प्री मैट्रिक आदिवासी कन्या छात्रावास एवं अबूझमाड़िया कन्या छात्रावास की बच्चियों को वितरण किये। मंत्री ने मिनी माता और शहीद वीर नारायण सिंह स्वावलंबन योजना के तहत तीन हितग्राहियों को चेकों का वितरण किया गया। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने उद्बोधन देते हुए कहा कि हितग्राहियो द्वारा समय पर ऋण लौटाने अनुकरणीय पहल है।

उन्होंने इसके लिए गाण्डोराम पोटाई और मनिषा मरकाम की तारीफ की। उन्होंने आशा व्यक्त कि जिन हितग्राहियों ने कहीं से भी ऋण लिया है उसे वे समय-सीमा में वापस करें। ताकि उन्हें अधिक ब्याज न देना पड़े। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमिला उईके, एसडीएम दिनेश कुमार नाग, डिप्टी कलेक्टर भूपेन्द्र साहू, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास के.एस.मसराम, जिला पंचायत सदस्य संध्या पवार सहित जनप्रतिनिधि और विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Tags

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
%d bloggers like this: