डॉ. रमन सिंह के कद और पद नापने में वक्त जाया ना करें भूपेश: भाजपा

श्रीचंद सुन्दरानी ने मुख्यमंत्री को भाषा में गरिमा, संयम और मर्यादा का ध्यान रखने की नसीहत दी

रायपुर: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता एवं पूर्व विधायक श्रीचंद सुन्दरानी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को भाषा में गरिमा, संयम और मर्यादा का ध्यान रखने की नसीहत दी है।

सुन्दरानी ने कहा कि मुख्यमंत्री राजनीतिक मुद्दों पर मतभेद रखें लेकिन राजनीतिक असहमति को व्यक्तिगत स्तर तक ले जाकर मुख्यमंत्री जिस तरह मिथ्या प्रलाप कर बदलापुर का खेल रच रहे हैं, वह मुख्यमंत्री पद की गरिमा और मर्यादा के विपरीत है।

भाजपा प्रवक्ता सुन्दरानी ने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के कद और पद को नापने की कोशिशों में वक्त जाया करने के बजाय अपनी पार्टी के छीनते जनसमर्थन की फिक्र करें, जिससे डरकर उन्होंने नगरीय निकाय चुनाव को अप्रत्यक्ष तौर पर लड़ने की तैयारी की है।

मुख्यमंत्री बघेल ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रहते हुए पांच साल पहले निकाय चुनाव प्रत्यक्ष प्रणाली से कराने की बात की थी तो अब वे अप्रत्यक्ष प्रणाली की वकालत करके जनता के लोकतांत्रिक अधिकार को छीनने और पवित्र जनादेश को धनबल-बाहुबल और छल-कपट की राजनीति से पलटने की पटकथा क्यों लिख रहे हैं?

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह पार्टी के सर्वमान्य नेता

सुन्दरानी ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष होने के नाते पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह पार्टी के सर्वमान्य नेता हैं और न केवल पार्टी कार्यकर्ताओं, अपितु प्रदेश की जनता के दिलों में वे बसते हैं। पार्टी और जनता के सम्मान ने जो कद डॉ. सिंह को दिया है, उसे पद से नापने की कोशिश करके मुख्यमंत्री बघेल ने संकीर्ण नजरिए का परिचय दिया है। मुख्यमंत्री बघेल अपना आचरण, व्यवहार और मर्यादित भाषा का उपयोग करें। ऐसी हल्की बयानबाजी करते वे शोभा नहीं देते।

सुन्दरानी ने कहा कि जब भी दस जनपथ जाते हैं सीएम तब छत्तीसगढ़ को अपमानित करा कर आ जाते हैं सोनिया जी का सुरक्षा गार्ड जब उन्हें गाड़ी से उतार कर पैदल कर देता है, तो क्या उन्हें अपमानित नहीं महसूस होता है? भूपेश को इसकी चिंता करनी चाहिए।

भाजपा प्रवक्ता सुन्दरानी ने कहा कि मुख्यमंत्री को बेतुका सवाल पूछने के बदले किसानों, आदिवासियों, युवाओं, महिलाओं, गरीबों, बेरोजगारों समेत पूरे प्रदेश के साथ छलावा करके उनके सपनों को चुराने का हिसाब देना चाहिए। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अहंकार से भरे हुए दिखाई दे रहे है महाराष्ट्र की जनता उन्हें आयना दिखाने वाली है।

Back to top button