राष्ट्रीय

तपस्या करें, समाज के विकास के लिए काम करें : भागवत

तिरुवनंतपुरम: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने मंगलवार को संगठन के स्वयंसेवकों का आह्वान किया कि वह निरतंर ‘तपस्या’ के जरिए समाज के समग्र विकास के लिए काम करें। संघ के विचारक पी परमेश्वरन के 90वें जन्मदिन के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में भागवत ने कहा कि एक ‘स्वयंसेवक’ का जीवन अपने आप में ही समाज के लिए एक संदेश है।

‘भारतीय विचार केंद्रम’ के निदेशक परमेश्वरन की तारीफ करते हुए भागवत ने कहा कि उनका जीवन एक आदर्श रहा है जिसका अनुसरण संघ के सभी कार्यकर्ताओं को करना चाहिए। आरएसएस प्रमुख ने कहा कि दक्षिणी राज्य में मौजूद विचार केंद्रम के सभी 40 केंद्रों को बौद्धिकता की तलाश के लिए विश्वस्तरीय संस्थान के तौर पर विकसित किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा, आपको इसमें अपना श्रम डालना होगा। तब आप देखेंगे कि आने वाले 10 वर्षों में ऐसा होगा। अगर संसाधनों की जरूरत पड़ेगी, तो हम संसाधन जुटाने के लिए प्रयास करेंगे, अपने चंदे के माध्यम से लक्ष्यों को प्राप्त करेंगे।’’ भाजपा विधायक ओ राजगोपाल, राज्य सभा सदस्य और अभिनेता सुरेश गोपी भी इस मौके पर मौजूद थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.