पैरेंटिंगलाइफ स्टाइल

क्या आप है प्रेग्नेंट और आदत है ‘फूड क्रेविंग’ की, तो हो जाएँ सावधान

गर्भावस्था में हैल्दी डाइट का सेवन करना बहुत जरूरी है क्योंकि यह समय बहुत खास होता है।

प्रेग्नेंट महिला द्वारा ली गई डाइट से ही गर्भ में पल रहे बच्चे को पोषण मिलता है लेकिन कुछ औरतों को इस समय फूड क्रेविंग हो जाती है।

खाना खाने के बाद भी मन नहीं भरता तो इस आदत को बदलना बहुत जरूरी है क्योंकि जरूरत से ज्यादा खाने से भी सेहत से जुड़ी परेशानियां हो सकती हैं। क्रेविंग को कम करने के लिए आप कुछ आसान टिप्स अपना सकती हैं।

नाश्ता जरूर करें

फूड क्रेविंग को रोकने के लिए सुबह से ही शुरुआत करें। इस दौरान नाश्ते की अनदेखी न करें, पोषक तत्वों से भरपूर आहार का सेवन करें।

इससे पेट भी भरा रहेगा और सही पोषण भी मिलेगा। नाश्ते में प्रोटीन और फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ शामिल करें।

थोड़े-थोड़े अंतराल में लें डाइट

प्रेग्नेंसी में भूखे रहने की गलती न करें। हर 2 घंटे बाद कुछ न कुछ खाती रहें। सलाद, फ्रूट, जूस, सूप, दही, रायता आदि जैसी चीजें खाने से फूड क्रेविंग काफी हद तक कम हो जाती है।

खुद को व्यस्त रखें

पेट भरा होने के बावजूद भी क्रेविंग हो तो खुद को व्यस्त रखने की कोशिश करें। पेटिंग, म्यूजिक सुनें, किताब पढ़े, फेवरेट मूवी देखें या फिर जो भी आपको पसंद हो उस काम में खुद को व्यस्त कर लें।

अकेले या एक ही जगह पर लगातार बैठे रहने से भी फूड क्रेविंग होने लगती है।

बाहर के खाने से परहेज करें

इस समय कोशिश करें कि घर का बना खाना ही खाएं। जंक फूड्स, पिज्जा, बर्गर, न्यूडल्स आदि जैसी चीजों का सेवन करने से स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है क्योंकि इनमें फैट्स की मात्रा अधिक और पोषक तत्वों की कमी होती है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
क्या आप है प्रेग्नेंट और आदत है 'फूड क्रेविंग' की, तो हो जाएँ सावधान
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button