उत्तर प्रदेशराज्य

डॉक्टरों ने निकाला सीने से आर-पार हुआ एंगल

लखनऊ: केजीएमयू में ट्रॉमा सेंटर के सात डॉक्टरों की टीम ने करीब चार घंटे के आॉपरेशन के बाद सड़क हादसे में घायल जानकीपुरम निवासी विरेंद्र के सीने से लोहे का एंगल निकाल दिया।

डॉक्टरों के मुताबिक, दिमाग की मुख्य नस कटने से युवक की हालत अब भी गंभीर है। इस कारण उसे वेंटिलेटर पर रखा गया है।

शहीद पथ पर गुरुवार को एक तेज रफ्तार कार डिवाइडर से टकराने के बाद कई पलटें खाई थी। इस हादसे में डिवाइडर पर लगी रेलिंग का एंगल विरेंद्र के सीने से आर-पार हो गया था, जबकि उसके एक साथ की मौके पर ही मौत हो गई थी।

हादसे के बाद विरेंद्र को ट्रॉमा सेंटर पहुंचाया गया। यहां डॉ. समीर मिश्रा, वैभव जयसवाल, अनूप सिंह, विकास, अनिरुद्ध, विजय कुमार, अभिषेक, शशांक और डॉ. वर्षा की टीम ने शुक्रवार को सर्जरी कर उसके सीने से ढाई फुट लंबा और चार इंच मोटा एंगल बाहर निकाल लिया।

डॉक्टरों ने बताया कि एंगल ऐसी जगह घुसा था, जिससे दिमाग की मुख्य नस ब्रैकियल आर्टरी कट गई। ऑपरेशन के दौरान इसे भी जोड़ा गया है, लेकिन मरीज की हालत अब भी गंभीर है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
केजीएमयू
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

Leave a Reply