डॉक्टरों की टीम ने गीधा में अवैध रूप से संचालित क्लिनिक पर की छापामार कार्रवाई

-क्लिनिक से अधिक मात्रा में महंगी एलोपैथिक दवाईयां जब्त

मुंगेली।

छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय बिलासपुर के निर्देशानुसार अवैध रूप से संचालित पैथोलॉजी सेंटर/नर्सिंग होम/क्लिनिक पर कार्यवाही करने के निर्देश के तारतम्य में विकासखण्ड मुंगेली के ग्राम गीधा में डॉ. युगल किशोर साहू के द्वारा अवैध रूप से क्लिनिक संचालन करने की शिकायत जिला कार्यालय में की गई थी। शिकायत के आधार पर नर्सिंग होम एक्ट के तहत जिला नोडल अधिकारी डॉ. सुदेश रात्रे एवं डॉ. कमलेश खैरवार के द्वारा 19 जून को ग्राम गीधा में युगल किशोर साहू द्वारा संचालित क्लिनिक पर छापा मारा गया।

क्लिनिक में बहुत अधिक मात्रा में महंगी एलोपैथी दवाईयां पाई गई। जिसे जब्त कर लिया गया। साथ ही एक सक्सन मशीन एवं बॉडी एनालाईजर, बेबी वेट मशीन एवं चार बिस्तर अस्पताल संचालित की जा रही थी। हाईकोर्ट के निर्देशानुसार क्लिनिक को सील किया गया एवं साथ ही उपस्थित डॉक्टर को क्लिनिक ना चलाने की चेतावनी दी गई।

पूर्व में अवैध रूप से संचालित क्लिनिक/पैथोलॉजी लैब/नर्सिंग होम पर कार्यवाही की गई थी तथा भविष्य में क्लीनिक चालू नहीं करने की चेतावनी दी गई एवं पुनः संचालित किये जाने पर एफ.आई.आर. दर्ज कराने की हिदायत दी गई थी। अतः पूर्व में बंद कराये गये क्लिनिक/पैथोलॉजी लैब/नर्सिंग होम पुनः चालू पाई जाती है तो एफ.आई.आर. दर्ज कराने की कार्यवाही की जायेगी। उच्च न्यायालय बिलासपुर के निर्देशानुसार इसी प्रकार की छापामार कार्यवाही जिले के झोलाछाप डॉक्टरों, अवैध संचालित लैब/क्लिनिक/नर्सिंग होम पर जारी रहेगी।

Back to top button