एक्टर व डायरेक्शन के हुनर से कर रहे लोगों को जागरूक, पेशे से है डॉक्टर

अंकित मिंज

बिलासपुर।

अपने लिए तो हर कोई करता है लेकिन बहुत कम लोग ही होते है जो समाज के बारे में सोचते है। उन्हीं में से एक है डॉक्टर राहुल पारीक। जो पेशे से होम्योपैथिक डॉक्टर हैं। वह लोगों की बीमारी का उपचार तो कर ही रहे हैं, लेकिन समाज में जो वास्तविक बीमारी है जागरूकता की कमी, उसका इलाज भी करने में जुटे हैं। इसके लिए एक्टिंग व डायरेक्शन के हुनर से शॉर्ट फिल्में बनाते हैं और दुर्घटनाओं से बचाने का प्रयास जागरूक करते हुए कर रहे हैं।

कब से कर रहे है एक्टिंग और डायरेक्शन

वर्ष 2013 से एक्टिंग करते हुए जागरूकता के लिए शार्ट फिल्म बनाने का कार्य शुरू किया। ज्यादातर फिल्मों में चोरी व दुर्घटनाओं से बचने का संदेश दिया गया। पुलिस विभाग, प्रशासन सभी ने मेरी मदद कर मुझे प्रेरित किया। सबसे ज्यादा घरवालों का सपोर्ट रहा।

किन विषयों पर बनाई हैं फिल्म

महिला सुरक्षा, यातायात जागरूकता, मद्यपान से बचने, आत्म रक्षा सहित कई विषयों पर हमनें फिल्म बनाई हैं। इसके अलावा आगे भी कई फिल्म बनाने की योजना है। मेरी फिल्मों में आईएएस, आईपीएस, मंत्री व साहित्यकार भी एक्टिंग कर चुके है। अभी तक 45 से अधिक शॉट फिल्में बनाई है। आने वाले समय में सिरामुन इंटरनेनमेंट के बैनर तले फिल्म बनाएंगे।

इस फील्ड में जुडऩे का क्या उद्देश्य रहा

मैंने पढ़ाई चौकसे होम्योपैथिक कॉलेज से बीएचएमएस की पढ़ाई की। उसी समय से मुझे समझ आ गया कि शारीरिक बीमारी का इलाज दवाओं से किया जा सकता है। लेकिन सामाजिक बीमारी का उपचार जागरूकता से ही हो सकता है। इसलिए इस काम में जुटा हुआ हैं।

1
Back to top button