लाइफ स्टाइलसेक्स एंड रिलेशनशिपहेल्थ

पार्टनर के साथ ऐसा करने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को मिलता है बूस्ट

अपने पार्टनर के साथ सोने से कई तरह के केमिकल्स छोड़ता है दिमाग

रायपुर: शरीर की प्रतिरोधक क्षमता या इम्यून सिस्टम को पार्टनर के साथ सोने से बूस्ट मिलता है. यह हमारे दिमाग में कई प्रकार के केमिकल्स को छोड़ता है, जिससे हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. इसी के साथ शांति से पार्टनर के साथ नींद लेने पर शरीर को आराम महसूस होता है.

क्या? आपने कभी ध्यान दिया है कि आप पूरे दिन के थके-हारे दिनभर के तनाव को लेकर घर आएं, और उसके बाद अपने पार्टनर के साथ सोने पर आपकी वो थकान खत्म हो जाती है. तनाव कम महसूस होने लगता है.

अगर तनाव में आप अकेले सोएंगे तो शायद आपको नींद ना आए, लेकिन अपने पार्टनर के साथ सोने से अच्छी नींद आती है. ऐसा इसलिए, क्योंकि पार्टनर के साथ सोने में आपको खुशी मिलती है और यह जल्दी नींद आने में आपको मदद मिलती है.

अगर आपको किसी बात की चिंता लगी रहे तो नींद आने में परेशानी होती है. कई बार इसके चलते लोग पूरी-पूरी रात सो नहीं पाते. अपने पार्टनर या गर्लफ्रेंड / बॉयफ्रेंड के साथ सोना मनोवैज्ञानिक तौर पर आपके स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा है.

स्किन से स्किन का टच आपके अधिवृक्क ग्रंथि को कोर्टिसोल रोकने का सिग्नल भेजता है. आसान शब्दों में कहा जांए तो अपने पार्टनर के टच से आपका शरीर और दिमाग दोनों ही रिलैक्स हो जाता हैं. इससे तनाव और डर दोनों खत्म होता है.

अपने पार्टनर के साथ सोने से दिमाग कई तरह के केमिकल्स छोड़ता है, ये केमिकल्स पुराने दर्द से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं और शरीर को तुरंत आराम पहुंचाते हैं. अब तो आप जान गए होंगे की कपल्स का एक साथ सोना कितना फायदेमंद है और क्यों आपकी सारी थकान अपने पार्टनर के पास आते ही खत्म हो जाती है.

Tags
Back to top button