रेत का गढ़ दोनर, सीनियर जूनियर की जोड़ी कर रही बड़ा खेल

धमतरी जिले में 15 जून से रेत घाट बंद कर दिए गए है , राज्य सरकार के आदेश के तहत बारिश के मौसम में रेत घाटों से रेत उत्खनन परिवहन पर सख्त रोक लगाई गई है,

राज चावला

धमतरी 28.06.2021 : धमतरी जिले में 15 जून से रेत घाट बंद कर दिए गए है , राज्य सरकार के आदेश के तहत बारिश के मौसम में रेत घाटों से रेत उत्खनन परिवहन पर सख्त रोक लगाई गई है, रेत की पूर्ति के लिए खनिज विभाग ने जिले में 62 रेत स्टॉकिस्ट को रेत के स्टॉक की परमिशन दे रखी है, ताकि रेत कि कीमत और पूर्ति बनी रहे, बावजूद इसके धमतरी जिले के दोनर ग्राम में ट्रेक्टर माफिया नियमो की धज्जियां उड़ाने से बाज नहीं आ रहे, विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जिले के दो रेत माफिया लगातार दोनर में रेत का अवैध भंडारण कर रहे,रेत का गढ़ दोनर, सीनियर जूनियर की जोड़ी कर रही बड़ा खेल

इन पिता पुत्र माफियाओं ने पिछले लंबे समय से इस गांव में अंगत के पैरो के माफिक अपने पांव रेत पर जमाय हुवे है ,इनके द्वारा राज्य सरकार के नियम कायदों को दरकिनार करने और किसी भी स्तिथि को संभालने अपनी राजनैतिक पहुंच सत्ता धारी सरकार के लोगो से होने का दावा कर गांव के भोले भाले ,ग्रामीणों को बहला फुसला कर पैसों का लालच देकर रेत घाट से दिन रात रेत गांव के ही अपने डंपिंग में पहुंचाई जा रही, अला दिन के चिराग की भांति इनके डंपिंग में ना ही स्टोक की रेत कम हो रही ना ही रेत ले जाने वाहनों की कतार में कोई कमी आ रही

दुर्ग,राजनादगांव, रायपुर, महाराष्ट्र तक हो रही सप्लाई

इस डंपिंग पॉइंट से लगातार धमतरी जिले सहित दुर्ग, रायपुर, राजनादगांव से हाईवा वाहनों को रेत तो बेची ही जा रही ,साथ ही इन दो माफियाओं द्वारा दिगर राज्य महाराष्ट्र से आने वाली भारीभरकम 16 चक्का, 18 चक्का , ट्राले को भी रेत ऊचे दामों में बेच मोटी कमाई रोजाना की जा रही ,यह पहली मर्तबा नहीं जब यह अपने मकसद में कामयाब हो रहे , सूत्र बताते है कि पिछले 1 वर्ष से भी ज्यादा समय से यह दोनों सीनियर जूनियर लगातार इस कार्य को अमली जामा पहनाते आ रहे

पूर्व में एक राइस मिल में भी की थी डंपिंग, जादुई पेन मामले में भी हुवे थे फेमस, हुई थी कार्यवाही

इस सीनियर जूनियर की कार गुजारी पहले भी सामने आ चुकी है, शहर के एक राइस मिल में इनके द्वारा पूर्व में अवैध डंपिंग कर रेत को उच्च दाम में बेचा जा रहा था, शिकायत मिलने पर खनिज विभाग ने इस जगह रेड मार कर कार्यवाही भी की ,साथ ही रॉयल्टी में जादुई पेन से समय तारीख ,स्थान को भी यह जादूगर अपना जादू दिखा कर ख्याति पा चुके है , जानकारक सूत्र बताते है कि अपने मुख्य व्यवसाय को छोड़ यह सीनियर जूनियर की जोड़ी पिछले डेढ़ वर्ष से रेत कारोबार को है अपना मुख्य व्यापार बनाकर, अपनी कारगुजारी को अंजाम देते हुए मोटी कमाई कर रहे

750 रुपए ओपन रेट

अपुष्ट सूत्रों के हवाले से हमारे प्रतिनिधि को पता चला है कि इस जोड़ी ने ट्रेक्टर संचालकों के लिए ओपन रेट तय कर रखा है , जिन्हे 750 रुपए के हिसाब से प्रति ट्रिप रेत लिया जा रहा , ग्रामीण भी कमाई के चक्कर में नियमो को तोड कर दिन रात घाट से रेत का उत्खनन कर डंपिंग तक रेत पहुंचा रहे ।

तालाब किनारे अवैध डंप

इस जोड़ी ने आंखों में धूल झोंकने के लिए तालाब के बाजू अवैध रेत की डंपिंग भी कर रखी है ना ही इस डंपिंग में इनके पास कोई परमिशन है, ना ही कोई वैध दस्तावेज

क्या होगी कार्यवाही ?

अब देखना होगा कि इस खबर के बाद आखिर यह सीनियर जूनियर के अवैध कारोबार पर क्या लगाम लगाई जाती है , या बड़ी अप्रोच पहुंच का हवाला देने वाले सीनियर जूनियर फिर से कोई जुगत लगाकर इस कार्य को बदस्तूर जारी रखते है

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button