छत्तीसगढ़

गोवर्धन पूजा के उपलक्ष्य पर गौ माता की सेवा किये डॉ इंदुभवानंद

दीपावली के दूसरे दिन मनाए जाने वाले गोवर्धन पूजन व अन्नकूट के दिन रायपुर स्थित शंकराचार्य आश्रम व भगवती राजराजेश्वरी मंदिर के प्रमुख ब्रह्मचारी डॉ इंदुभवानंद ने भगवती राजराजेश्वरी के पूजा, अर्चना पश्चात शंकराचार्य आश्रम के गौ शाला में गौ माता की सेवा किये साथ ही गौ माता को चारा खिलाये और बछड़ों को गोद मे उठाये उनका खूब आदर किया। पूज्य ब्रह्मचारी डॉ इंदुभवानंद के साथ एमएल पांडेय, रिद्धिपद, नरसिंह चंद्राकर, रत्नेश शुक्ला, महेंद्र तिवारी, गौतम तिवारी, हर्षित एवं अन्य भक्तगणों ने भी गौ सेवा किये। ब्रह्मचारी डॉ इंदुभवानंद ने कहा कि गौ माता के शरीर मे देवताओं के वास होते हैं। गौ माता मनुष्य का पोषण अपने दूध से करती है साथ ही मनुष्य दूध से घी, मक्खन, दही, पनीर आदि बनाते हैं और उससे रोजगार करते हैं। पूजन हेतु गौ मूत्र का उपयोग होता है और रोजाना गौ मूत्र पीने से विभिन्न रोगों से दूर रहा जा सकता है। ब्रह्मचारी डॉ इंदुभवानंद ने प्रत्येक मनुष्य से आग्रह किया कि वे गौ माता की सेवा करें न कि दोहन।

advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.