अतिक्रमण हटाकर बनायी जायें नाली, सड़कें : मनीष शर्मा

मनीष शर्मा ने की जिला प्रशासन व नगर पालिका से माँग

मुंगेली : जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) मीडिया प्रभारी मनीष शर्मा ने माँग की है कि शहर में सड़कों के आसपास बेतरतीब सड़कों को अतिक्रमण मुक्त किया जाये।साथ पूरे शहरी क्षेत्र के सभी बड़े नालियो के ऊपर अतिक्रमण कर नालियों को भी दबा देने के चलते जब आसपास के बड़े बड़े होटलो के सड़ाँध भरे ये नालियां बजबाजाने लगती है तब किसी महामारी की आशंका के मद्देनजर म्युनिसिपल जागता है ऐसे तैसे जेसीबी वाहनों से इन नालियो का बदबूदार सडांध फायर ब्रिगेड के प्रेसर पाइप से नालियो को कई मर्तबा खोला गया मगर सप्ताह भर के भीतर ही दुकानदारों द्वारा नालियो को आवागमन के लिए दबा दिया जाता हैं ऐसे में आये दिन यातायात भी अतिक्रमणकारियों से बदहाल है साथ इन नालियो के सडांध अवशेष जमा होने से भी महामारी फैलने की आशंका बनी रहती है।शहर भीतर गौरव पथ मार्ग के एक बड़े होटल के पूरा दूषित पानी पीछे शिक्षक नगर में जमा होकर महामारी फैलने की आशंका बनी रहती है।

बता दें नगर पालिका परिषद मुंगेली द्वारा नगर के विभिन्न वार्डों में सड़कों के निर्माण के लिये भूमि पूजन कर दिया जाता है जाहिर है अतिक्रमण के कारण यहाँ नागरिकों को भारी परेशानी होती है। महत्वपूर्ण सड़कों के निर्माण के पूर्व वहाँ से अतिक्रमण पूरी तरह हटाये जाये लेकिन वहाँ पर गरीब फुटपाथी के दुकानदारों को हटाने के पहले उन्हें अपनी रोजी रोटी के लिये उचित स्थान भी दिया जाये। वैसे तो पूरे मुंगेली शहर सहित महत्वपूर्ण गाँवों में अतिक्रमण दिन दूना रात चौगुना फैल रहा है गांव गांव बाद में सरकारे इन्हें स्थायी काबिज जगह का पट्टा भे दे रही है ऐसे में स्थानीय जिला प्रशासन आँखें बंद किये हुए बैठा हुआ है। बीस साल पुरानी चौडी सड़कें आजकल गलियों में बदल चुकी हैं जहाँ से शहरों भीतर ही बड़े बड़े रशुखदारो के सड़को में वाहनों के गेरेज एक चौपहिया वाहन निकलने पर जाम लग जाता है जिससे आवागमन में तकलीफ होने के साथ ही साथ आये दिन विवाद होते रहते हैं। कामोबेश पूरे शहर भीतर रामानुज गेट, गोलबाजार, महावीर चौक,बलानी चौक,मल्लाहपारा गर्ल्स स्कूल रोड पर चलना मुश्किल है।

नगरीय निकायों में अतिक्रमण, नालियो के सफ़ाई, सड़क निर्माण दौरान स्थायी समाधान के लिए कांक्रीट निर्णय लेते हुए जिला प्रशासन की ओर से एक सतर्कता टीम बनाई जाए जिसमे किसी जनप्रतिनिधियों के दखल ना हो जिसमे म्युनिसिपल, पुलिस, राजस्व की टीम का एक अलग से अतिक्रमण सर्वे,हो फिर हटाने की कार्यवाही हो।

Back to top button