दिल्ली एयरपोर्ट के पास स्थित एक अस्पताल को दोबारा खोलेगा DRDO

ये कोविड डेडीकेटेड हॉस्पिटल तैयार कर लिया गया है, जिसमें 500 बैड की व्यवस्था है

नई दिल्ली: कोरोना मरीजों के इलाज के लिए दिल्ली एयरपोर्ट के पास स्थित एक अस्पताल को कोविड डेडीकेटेड हॉस्पिटल के रूप में 500 बैड की व्यवस्था के साथ रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) दोबारा खोलने जा रहा है.

यह सभी आईसीयू बेड हैं, जिसमें वेंटिलेटर की भी व्यवस्था है. इसके अलावा यहां एक कैंटीन भी खोली जा रही है, जिसमें मरीज के लिए खाना तैयार होगा. देश में तेजी से बढते कोरोना केस को देखते हुए प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और रक्षा मंत्री सभी ने डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल को एक बार फिर से तैयार करने के लिए कहा था.

डीआरडीओ के चेयरमैन सतीश रेड्डी ने कहा कि रविवार को हम इस अस्पताल को डॉक्टरों के हवाले कर देंगे और इसके बाद यहां पर मरीजों की भर्ती शुरू कर दी जाएगी. हाल ही में यहां होम सेक्रेट्री ने मुआयना किया है.

सभी जरूरी दवाईयों की व्यवस्था

डीआरडीओ चेयरमैन ने कहा, ‘दवाइयों की कमी न हो इसको देखते हुए हमने आउटसोर्स एजेंसीज से पहले ही बात कर ली है और जो भी जरूरी दवाइयां है, इस अस्पताल में उपलब्ध कराई जाएंगी. किसी भी प्रकार की कोई परेशानी न आए उन सबका हम ख्याल रखते हुए पहले से ही चल रहे हैं.

रविवार को अस्पताल अपने चार्ज में ले लेंगे और फिर रात से ही यहां पर मरीजों की भर्ती शुरू कर दी जाएगी. अभी 1 से 2 दिन 250 बेड की व्यवस्था रहेगी और फिर उसके बाद 500 बेड की व्यवस्था कर दी जाएगी.

उन्होंने आगे कहा, ‘हमने यहां पर सभी चीजों का प्रबंध किया है. हर बेड के साथ वेंटिलेटर है. इसके अलावा एयर कंडीशन है और यहां पर जो एयर कंडीशन लगे हैं उनमें प्रॉपर फिल्टर है, जिससे कि इंफेक्शन या वायरस फैल नहीं सकता.

दवाइयों के लिए भी हमने पहले ही जो आउटसोर्स एजेंसी है, उससे बात कर ली है. जो भी जरूरी दवाइयां है वह यहां पर कम न हो और हम दिल्ली सरकार के साथ मिलकर, उनसे संपर्क बना कर काम करेंगे.’

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button