अवैध संबंध के चलते भतीजे ने चाचा को उतारा मौत के घाट

महज आठ घंटों में पुलिस ने आरोपियों को कर लिया गिरफ्तार

मनीष शर्मा

मुंगेली। चाची से अवैध संबंध के कारण भतीजे ने अपने सहयोगी के साथ मिलकर चाचा को मौत के घाट उतार दिया। घटना जरहागांव थाने के बरेला खार की है।

जरहागांव पुलिस ने इस घटना का खुलासा महज आठ घंटे में कर लिया। म़तक के गुमनाम होने के बाद पुलिस ने शंक के आधार पर पुलिस ने भतीजे से पूछताछ की।

इस बीच भतीजे ने पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार जरहागांव थाना बरेला निवासी श्रवण नट का अपने ही चाची से लंबे समय से प्रेम संबंध बरकरार था।

जब पति रिंकू नट को अवैध संबंध के बारे में पता चला तो दो माह पूर्व चाचा भतीजे का विवाद भी हुआ।

मगर भतीजे और चाची का प्रेम संबंध पूरे सबाब पर होने के चलते हर समय विवाद की स्थिति बनती रही।

आखिरकार भतीजे श्रवण नट ने अपने सहयोगी धर्मेंद्र के साथ मिलकर पहले तो चाचा रिंकू के साथ जरहागांव मे शराब पिलाने के बाद नहर समीप ले जाकर धर्मेंद्र व श्रवण ने मारमार कर हत्या कर दी।

इसके बाद रिंकू को पास गड्ढे में दबा दिया गया।

जरहागांव टीआई कविता ध्रुवे ने जब रिंकू के गुम होने की रिपोर्ट दर्ज कराई और जांच में पता चला कि घटना में अवैध प्रेम संबंध व पारिवारिक क्लेश की जानकारी मिलने के बाद आरोपी श्रवण नट ने चाची से अवैध संबंध होने व सहयोगी धर्मेंद्र के साथ चाचा रिंकू की हत्या करना स्वीकार किया।

हालांकि घटना स्थल ,सहयोगी आरोपी मृतक के संबंध में जरहागांव पुलिस को अलग-अलग जगहों से पतासाजी करनी पड़ी मगर अंधे अवैध प्रेम संबंध का खुलासा करने में जरहागांव पुलिस को घंटो में ही सफलता मिल गई।

जरहागांव पुलिस ने मर्ग कायम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया। आरोपी धर्मेंद्र नट व श्रवण नट के विरूद्ध धारा 302,201,34 पर न्यायालय पेश में किया गया, जिसके बाद दोनों आरोपियों को न्यायालय से जेल भेजे गया।

Back to top button