कम विजिबिलिटी के कारण रायपुर-जगदलपुर फ्लाइट रद्द

कंपनी ने लिखी एयरपोर्ट अथारिटी को चिट्ठी

जगदलपुर / रायपुर. 50 दिन के मेंटेनेंस के बाद आखिरकार रायपुर-जगदलपुर फ्लाइट शुरू हुई तो अब जगदलपुर में खराब मौसम और बारिश की वजह से फ्लाइट रद्द हो रही है। जगदलपुर एयरपोर्ट पर पायलट को लैंडिंग के लिए विजिबिलिटी की समस्या आ रही है।

27 अगस्त से फ्लाइट उड़ान के लिए भुवनेश्वर से रायपुर पहुंची चुकी थी, लेकिन बीते दो दिनों से लगातार बारिश की वजह से 28 अगस्त को भी फ्लाइट उड़ान नहीं भर सकी। लिहाजा अब फ्लाइट को वापस भुवनेश्वर भेज दिया गया है।

इस संबंध में एयर ओडि़शा के अधिकारियों ने बताया कि जगदलपुर एयरपोर्ट पर आधुनिक डीवीओआर यानी वेरी हाई डॉप्लर ओमनी डायरेक्शन रेडियो रेंज सिस्टम नहीं लगे होने की वजह से फ्लाइट की लैंडिंग में समस्या आ रही है।

इसकी वजह से या तो फ्लाइट को रद्द करना पड़ रहा है या तो डायवर्ट किया जा रहा है। रायपुर-जगदलपुर फ्लाइट रद्द या डायवर्ट होने के पीछे खराब मौसम या बारिश से बड़ी वजह कम विजिबिलिटी की परेशानी है.

विमानन विशेषज्ञों का कहना है कि तेज बारिश में भी फ्लाइट की लैंडिंग हो सकती है। रायपुर एयरपोर्ट में खराब मौसम में फ्लाइट की लैंडिंग की समस्या नहीं है।

दरअसल जगदलपुर में विजुअल फ्लाइट रूल्स (वीएफआर) लगे होने की वजह से 5000 मीटर तक एटीसी द्वारा लैंडिंग की अनुमति मिलती है, लेकिन बारिश या ठंड के दिनों में विजिबिलिटी 5000 मीटर से कम हुई तो फिर फ्लाइट की लैंडिंग संभव नहीं है। यह समस्या जगदलपुर एयरपोर्ट पर आ रही है।

कंपनी ने लिखी है चिट्ठी

एयर ओडि़शा के निदेशक संतोष पाणी ने बताया कि इस संबंध में एयर ओडि़शा ने एयरपोर्ट अथारिटी को पत्र लिखा है कि जगदलपुर एयरपोर्ट में आधुनिक डीवीओआर मशीन लगाई जाए। विमानन कंपनी ने उड़ान के पहले शर्त रखी थी कि बिना आधुनिक मशीन से फ्लाइट का परिचालन नहीं किया जा सकता।

Back to top button