फैनी तूफान के असर के कारण प्रदेश के तापमान में कमी, 24 घंटों में कुछ जगहों पर हो सकती है बारिश

रायपुर: मौसम वैज्ञानिकों को लालपुर मौसम केंद्र में सैद्धांतिक तरीके से तापमान मापने के लिए सही जगह नहीं मिल पा रही है। विश्व मौसम संगठन के अनुसार तापमान मापने के लिए हवा से 4 फीट ऊंचाई और खुले मैदान यानी मिट्टी की सतह वाले मैदान का होना जरूरी है।

आज से 10 साल पहले तक यहां परिस्थितियां अनुकूल थी लेकिन शहरीकरण की वजह से अब यह स्थिति नहीं है। लालपुर मौसम केंद्र के आस-पास ऊंची बिल्डिंग और कांक्रीट के जंगल की वजह से वैज्ञानिक मौसम का सही आंकलन नहीं कर पा रहे हैं। यही कारण है कि रायपुर के मुकाबले माना एयरपोर्ट का तापमान आमतौर पर अलग रहता है।

माना एयरपोर्ट का तापमान रायपुर से कम रहता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि एयरपोर्ट परिक्षेत्र में विश्व मौसम संगठन के नियमों के अनुसार तापमान का अध्ययन करने के लिए वातावरण है। इस वजह से माना एयरपोर्ट और रायपुर के तापमान में भिन्नता देखी जाती है।

Tags
Back to top button