असंतुलित होकर पेड़ से गिरा नाबालिग, पेट के आर-पार हुआ सूखी टहनी

डॉक्टर्स की मानें तो रक्तस्त्राव पर स्थिति नाजुक हो सकती थी

बड़वानी: मध्यप्रदेश के बड़वानी में पाटी विकासखंड के ग्राम बुदी के पटेल फलिया निवासी आठ साल का नाबालिग छोटी बहन के लिए बेर तोड़ने पेड़ पर चढ़ा और असंतुलित होकर गिर गया. टहनी टूट गई और सुरेश टहनी सहित जमीन पर जा गिरा.

गिरने से सूखी टहनी बालक के पेट के आर-पार हो गई. खून से लथपथ आठ वर्षीय बालक हिम्मत दिखाते हुए जब 500 मीटर दूर स्थित अपने घर पहुंचा तो परिजन और देखने वाले अन्य लोग सकते में आ गए. आनन-फानन में परिवार घायल बच्चे को जिला अस्पताल लेकर पहुंचा, जहां से उसे इंदौर रेफर कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक, पाटी विकासखंड के ग्राम बुदी के पटेल फलिया निवासी सकाराम का आठ साल का बेटा सुरेश घर से कुछ दूरी पर अपने खेत में बहन के साथ खेल रहे था, तभी बहन ने बेर खाने की इच्छा जताई, तो भाई बेर तोड़ने के लिए पेड़ पर चढ़ गया. इस दौरान उसका संतुलन बिगड़ा और वो पेड़ की सूखी टहनी पर पेट के बल गिरा गया.

इससे टहनी सुरेश के पेट के आर-पार होकर पीठ की तरफ निकल गई. इसके बाद भी सुरेश करीब 500 मीटर दूर चलकर घर पहुंचा, जिसके बाद परिजनों ने मासूम को अस्पताल पहचाया, जहां से उसे इंदौर रेफर कर दिया गया है.

बताया जा रहा है कि बच्चे के पेट में जो लकड़ी आर-पार धंसी है. उसकी मोटाई करीब आंधी-इंच है. इस मामले में सबसे बड़ा राहत ये है कि लकड़ी इस तरह धंसी है कि ज्यादा रक्तस्त्राव नहीं हो रहा है. डॉक्टर्स की मानें तो रक्तस्त्राव पर स्थिति नाजुक हो सकती थी.

जिला अस्पताल के डॉक्टर्स ने बताया कि बेहतर इलाज के लिए बच्चे को इंदौर रेफर किया गया है. डॉक्टर्स ने बताया कि मासूम होश में है और अच्छे से बातचीत कर रहा है.

1
Back to top button