इन 4 कारणों के वजह से पीरियड्स में होता है तेज दर्द

पीरियड्स में हल्का दर्द होना तो लाजिमी है लेकिन यह असहनीय हो जाए तो परेशानी का कारण बन जाते है।

अधिकतर महिलाओं के लिए तो पीरियड्स का दर्द इतना बर्दाश्त से बाहर हो जाता है कि उन्हें पेनकिलर या दवाइयों का सहारा लेना पड़ता है। क्या आप जानते है कि पीरियड्स दर्द इतना असहनीय क्यों हो जाता है। अगर नहीं तो चलिए जानते है उन कारणों के बारे में।

1. अनियमित पीरियड्स

पीरियड्स के रेग्युलर न होने की वजह से भी दर्द होता है। अक्सर महिलाएं इस बात को अनदेखा कर देती है जो बिल्कुल गलत है।

2. हैवी ब्लीडिंग

इसके अलावा हेवी ब्लीडिंग होने से भी दर्द बढ़ जाता है। दरअसल, पीरियड्स के दिनों में प्रोस्टेग्लैडिंस का स्त्राव होता है जिसकी वजह से दर्द तेज हो जाता है।

3. मांसपेशियां सिकुड़ना

इस वक्त गर्भाशय की मांसपेशियां सिकुड़ जाती हैं, ताकि उसमें मौजूद सारी गंदगी साफ हो सकें। ऐसे में अधिकतर महिलाओं को सिर दर्द, उल्टी और भारीपन की भी शिकायत रहती हैं।

4. डिसमेनोरिया

यह एक हेल्थ कंडिशन है जोकि सात में एक महिला को होती है। दरअसल जब भूण्र अंडाशय में से निकल के फैलोपियन ट्यूब के अंदर ग्रो करने लगता है तो दर्द असहनीय होने लगता है।

पीरियड्स में ले ऐसी डाइट

पीरियड्स के दिनों में ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर चीजें खाए। इसके अलावा विटामिन ई की भरपूर मात्र लें। इस दौरान मैग्नीशियम, जिंक और विटामिन बी1 से भरपूर फूड्स खाने से भी फायदा मिलेगा।

 <>

Back to top button