दुर्ग : संक्रमण पीड़ितों को नियमित भाप सुविधा मिल सके इसलिए दान की वेपर मशीनें

ओम सत्यम शिक्षा विकास समिति ने जिला अस्पताल को दिये 10 मशीन

दुर्ग 26 मई 2021 : कोरोना काल में सामाजिक संस्थाएं कोरोना संक्रमण से निपटने महत्वपूर्ण भागीदारी निभा रही है और स्वास्थ्य विभाग को आवश्यक संस्थाएं उपलब्ध करा रही है। आज इसी के क्रम में सत्यम ओम शिक्षा विकास समिति ने जिला अस्पताल को 10 वेपर मशीनें उपलब्ध कराए। इन मशीनों के माध्यम से चेस्ट इनफेक्शन महसूस कर रहे लोगों को काफी राहत मिलेगी। वेपर मशीनों के माध्यम से नियमित रूप से भाप लेना आसान होगा।

कोरोना संक्रमण

सिविल सर्जन डॉ. पी बाल किशोर ने समिति के सदस्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस तरह के कार्य से जिला अस्पताल के संसाधन मजबूत होते हैं तथा मरीजों को भी काफी राहत मिलती है। कोरोना काल में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए जनभागीदारी से काफी मदद मिली है जिससे जिला अस्पताल को अपने संसाधन मजबूत करने में बड़ी सहायता मिली है और कोरोना संक्रमण से लड़ने की दिशा में हम महत्वपूर्ण कार्य कर पा रहे हैं। समिति के अध्यक्ष सीताराम ठाकुर ने इस मौके पर कहा कि समिति जिला अस्पताल में मरीजों के बेहतर इलाज के लिए लगातार मदद करती रहेगी तथा आगे भी इसी तरह से उपकरण उपलब्ध कराती रहेगी।

इस मौके पर जीवनदीप समिति के सदस्य दिलीप ठाकुर भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि वेपर मशीनों के माध्यम से मरीजों को सिकाई करने में काफी सुविधा मिल पाएगी। सिकोला बस्ती के अंतर्गत ओम सत्यम शिक्षा एवं जन विकास समिति जो सस्ती शिक्षा एवं गुणात्मक रचनात्मक कार्यों के लिए अग्रणी भूमिका में रहती है। सेवा परमो धर्म के मूल सिद्धांत से संचालन कर रही है।

भारत रत्न पूर्व प्रधान मंत्री राजीव गांधी की 30वीं पुण्य तिथि के अवसर पर जिला चिकित्सालय के मरीजों की तीमारदारी सेवासंवेदना की मूल्यवान भावना हेतु वेपर मशीन के अतिरिक्त व्हील चेयर, 8 लीटर की सेनेटाइजर मशीन सिविल सर्जन डॉ.पी बालकिशोर को सौंपा गया। इस अवसर पर समिति अध्यक्ष सीताराम ठाकुर, जिला चिकित्सालय के जीवन दीप समिति के कार्यकारिणी सदस्य  दिलीप ठाकुर, दक्षिण ब्लॉक अध्यक्ष अजय मिश्रा और वी वाय हॉस्पिटल के संचालक एवं संस्कृति प्रकोष्ठ अध्यक्ष शिवा कांत तिवारी की विशेष उपस्थिति एवं पन्नालाल नेताम, सोहन सैकी की सक्रिय भूमिका थी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button