छत्तीसगढ़

दुर्ग : विशेष ई-मेगा कैम्प का शुभारंभ 31 अक्टूबर प्रातः 10ः30 बजे विडियो काफ्रेंसिंग के माध्यम से

राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर के द्वारा 31 अक्टूबर को राज्य स्तरीय ई-मेगा कैंप का आयोजन किया जा रहा है।

दुर्ग 30 अक्टूबर 2020 : राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर के द्वारा 31 अक्टूबर को राज्य स्तरीय ई-मेगा कैंप का आयोजन किया जा रहा है। राज्य स्तरीय विशेष ई-मेगा कैंप का शुभारंभ माननीय कार्यपालक अध्यक्ष/न्यायमूति प्रशांत कुमार मिश्रा, माननीय न्यायमूति मनीन्द्र मोहन श्रीवास्तव, न्यायाधीश छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय तथा माननीय न्यायमूर्ति गौतम भादुडी न्यायाधीश, छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय एवं अध्यक्ष्, उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति की गरिमामयी उपस्थिति छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के एनआईसी से विडियो कांन्फ्रेसिंग के माध्यम से प्रातः 10ः30 बजे किया जाएगा।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एवं जिला प्रशासन दुर्ग के संयुक्त तत्वाधान में कलेक्टर परिसर के एनआईसी सभागार में 11ः30 बजे  रामजीवन देवांगन कार्यवाहक जिला न्यायाधीश/ अध्यक्ष दुर्ग के द्वारा दीप प्रज्जवलित कर विडियो कांफ्रेन्सिंग के माध्यम से हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाएगा। उक्त दीप प्रज्जवलन में सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे, कलेक्टर दुर्ग,सुशांत ठाकुर, पुलिस अधीक्षक दुर्ग व राहुल शर्मा, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दुर्ग एवं अन्य विभाग के अधिकारी रहेंगे।

छत्तीसगढ़ राज्य में ई-प्लेटफार्म के माध्यम से 31 अक्टूबर को

छत्तीसगढ़ राज्य में ई-प्लेटफार्म के माध्यम से 31 अक्टूबर को शासन द्वारा संचालित योजनाओं में पीड़ितों को प्रदान की जाने वाली वित्तीय एवं अन्य सहायता हितग्राहियों की पहचान कर उक्त तिथि को संबंधित योजनाा के अनुरूप राशि अथवा लाभ प्रदान किए जावेंगे। साथ ही विभागों द्वारा संचालित योजनाओं की संक्षिप्त जानकारी एवं प्रक्रिया भी आम जन को प्रदान की जावेगी।

इस कार्यवाही का लाईव प्रसारणा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, दुर्ग के फेसबुक डीएलएसए दुर्ग के लिंए ीजजचेध्ध्ूूूण्ंिबमववाण्बवउध्कसेंण्कनतहण्5 पर किया जावेगा। साथ ही जिला विधिक सेवा प्राधिकरण (दुर्ग डीएलएसए) के द्वारा यू ट्यूब चैनल डीएलएसए दुर्ग पर लाईव स्ट्रीमिंग किया जावेगा।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button