कलकत्ता HC का आदेश : अलग – अलग रूटों पर निकले प्रतिमाएं और ताजिए

कलकत्ता : दुर्गा प्रतिमा विसर्जन मामले में कलकत्‍ता हाई कोर्ट ने ममता बनर्जी सरकार के फैसले को पलट दिया है। अदालत ने कहा है कि सभी दिनों पर रात 12 बजे तक विसर्जन की इजाजत होगी यहां तक कि मुहर्रम के दिन भी। उच्‍च न्‍यायालय ने पुलिस से विसर्जन और ताजियों के लिए अलग-अलग रूट निर्धारित करने को कहा है। गुरुवार को फैसले से पहले अदालत ने राज्‍य सरकार को एक बार फिर फटकारा। अदालत ने कहा, आप के हाथ में शक्ति है तो क्या आप मनमाना आदेश पारित कर देंगे? आपको सपना आता है कि कुछ बुरा होने वाला है और इसी सपने के आधार पर आप प्रतिबंध नहीं लगा सकते हैं।”
अदालत ने कहा, ”जब आप इस बात पर अडिग हैं कि राज्‍य में सांप्रदायिक सद्भाव है तो आप दोनों के बीच सांप्रदायिक फर्क क्‍यों कर रहे हैं। उन्‍हें भाईचारे से रहने दीजिए। उनके बीच में कोई लकीर मत खींचिए। उन्‍हें साथ रहने दीजिए।”

आपको बता दें कि पिछले महीने ममता बनर्जी की सरकार ने आदेश दिया था कि शाम छह बजे के बाद मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन नहीं किया जा सकेगा।

Back to top button