पत्थलगांव में दुर्गा विसर्जन घटना: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की 50 लाख मुआवजा की घोषणा. पढ़िए अब तक क्या हुआ

रायपुर/जशपुर. छग सरकार ने पहले ही सभी जिलों के एसपी को यह निर्देश दिए थे, कि चेकिंग पॉइंट लगाकर तलाशी ली जाए. और गांजा, शराब, अफीम तस्करों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। लेकिन अधिकारी अपनी मनमानी पर उतर गए है। जब सीएम के निर्देशों का नजर अंदाज कर रहे है तो आम जनता का क्या होगा। जशपुर जिले के पत्थलगांव में शुक्रवार को दुर्गा विसर्जन करने जा रहे श्रद्धालुओं के जुलूूस में गांजा तस्करों ने तेज रफ्तार वाहन रौंदने हुए निकल गया जिसमें एक युवक की मौत हो गई। वाहन इतनी तेज रफ्तार से जुलूस में घुसी और लोगों को रौंदते हुए निकल लोग ताश के पत्तों की तरह इधर-उधर गिर पड़े। मौके पर मौजूद पुलिस अधिकारी व प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक इस हादसे में चार लोगों की मौत होने की खबर है। 25 से अधिक लोग घायल हो गए। एसपी विजय अग्रवाल ने केवल एक मौत और कई घायल की पुष्टि की है। जनता से रिश्ता लगातार शासन-प्रशासन को सीमावर्ती क्षेत्र में हो रहे गांजा सहित अन्य मादक पदार्थों की तस्करी के बारे में संज्ञान में लाते रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी सीमावर्ती क्षेत्र में जल्द से जल्द तस्करी रोकने चेकिंग बेरियर बनाकर हर आने जाने वाहनों की सघन चेकिंग करने के निर्देश दिए थे। यदि इस आदेश पर अमल होता तो पत्थलगांव की घटना नहीं हो पाती।

राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने घटना को दुखद बताया

राज्यपाल और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जशपुर की घटना पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है वहीं सीएम भूपेश ने जांच के निर्देश दिए हैं। उन्होंने घटना को हृदय विदारक बताते हुए कहा है कि त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। प्रथम दृष्टया दोषी पुलिस अधिकारियों पर भी कार्रवाई हुई है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोई भी बख्शा नहीं जाएगा सबके साथ न्याय होगा। उन्होंने हादसे में दिवंगत की आत्मा की शांति तथा घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की।

वाहन चढ़ाने के मामले में सियासत तेज हो गई

जशपुर के पत्थलगांव में दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे लोगों पर तेज रफ्तार वाहन चढ़ाने के मामले में सियासत तेज हो गई है। भाजपा और जोगी कांग्रेस ने घटना की तुलना उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी से की है। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि यह दिल दहला देने वाली घटना है। जोगी कांग्रेस अध्यक्ष अमित जोगी ने सीएम से पूछा कि जितनी हमदर्दी लखीमपुर में दिखाई है। क्या वे जशपुर जिले में मारे गए लोगों तथा घायल किसानों के प्रति भी इतनी ही हमदर्दी दिखाएंगे?

टीआई समेत 3 अफसरों को सस्पेंड किया

जशपुर सड़क हादसा मामले में एसपी ने कार्रवाई की है। टीआई समेत 3 अफसरों को सस्पेंड किया है। दुर्गा विसर्जन करने जा रहे लोगों को तेज रफ्तार से आ रही कार ने कुचल दिया. इस दुर्घटना में एक की मौत हो गई, जबकि दर्जनभर से ज्यादा लोग घायल हो गए. दुर्घटना के बाद का पूरे इलाके में तनाव की स्थिति हो गई. गुस्साए लोगों ने कई गाडिय़ों में आग लगा दी और गाड़ी चलाने वाले ड्राइवर की जमकर पिटाई की। घटना के बाद पूरे शहर में आक्रोश है। लोगों ने शहर को बंद कर रखा है और पत्थलगांव थाने में प्रदर्शन कर रहे हैं। घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें कार लोगों को पीछे से आकर कुचलते हुए दिख रही है।

जानकारी के अनुसार, मूर्ति विसर्जन के दौरान तेज रफ्तार से गाड़ी जुलूस में चल रहे लोगों की तरफ पीछे से अचानक आ गई। मरने वाले युवक की पहचान गौरव अग्रवाल के नाम से हुई है। इस दुर्घटना में 15 लोग घायल हो गए हैं। लोगों को आरोप है कि दुर्घटना को अंजाम देने वाली गाड़ी में गांजा भरा हुआ था। हालांकि, पत्थलगांव के एसडीओपी ने कहा है कि अभी इस मामले की जांच की जा रही है। जशपुर के एसपी विजय अग्रवाल ने घटना में एक की मौत की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि दुर्घटना में 15 लोग घायल हो गए हैं, जिसमें से दो की स्थिति गंभीर बनी हुई है. वहीं, ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर जेम्स मिंज ने बताया कि अस्पताल में एक शव को लाया गया था, जबकि अन्य घायल थे। घायलों में से दो को अन्य अस्पताल में रेफर कर दिया गया. एक्स-रे में फ्रैक्चर की पुष्टि हुई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जशपुर की घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं. उन्होंने ट्वीट कर बताया कि जशपुर की घटना बहुत दुखद और हृदयविदारक है। दोषियों को तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया है।

प्रथमदृष्टया दोषी दिख रहे पुलिस अधिकारियों पर भी कार्रवाई हुई है। जांच के आदेश दिए गए हैं। आरोपी के नाम 1.बबलू विश्वकर्मा पिता राधेश्याम विश्वकर्मा उम्र 21 वर्ष निवासी सिंगरौली , बैढऩ 2. शिशुपाल साहू पिता रामजन्म साहू उम्र 26 वर्ष निवासी बरगवां थाना बरगवां जिला सिंगरौली इस हादसे में पुलिस प्रशासन की लापरवाही सामने आई है, अनुमति देने के बाद यातायात व्यवस्था क्यों नहीं दी गई। इस हादसे में क्षेत्र के एसडीएम एएसपी थाना प्रभारी एसडीओपी, यातायात प्रभारी और संबंधित पुलिस अधिकारी जिम्मेदारी है। एडीएम के अनुमति के अनुसार दुर्गा विसर्जन यात्रा के मार्ग में किसी भी प्रकार के वाहन के आवाजाही की अनुमति नहीं होती है और इसकी जिम्मेदारी संबंधित क्षेत्र के जिला और पुलिस प्रशासन की होती है , चूँकि गांजा तस्कर मध्यफ्रदेश के थे और गांजा की खेप ओडिसा से यूपी ले जा रहे थे। इसलिए इसमें साजिश की बू आती है और कही छग सरकार को बदनाम करने का कोई छुपा हुआ एजेंडा उजागर हो सकता है। ओडिशा से छग मार्ग में पूरे देश में गांजा तस्करों की लॉबी खुलेआम काम कर रही है।

मौतों पर सियासत न करे भाजपा : कांग्रेस

कांग्रेस ने कहा कि इस घटना को लखीमपुर की घटना से जोड़कर बयान देना राजनैतिक अध:पतन की पराकाष्ठा है। दोनों घटनाएं निंदनीय है लेकिन दोनों में समानताएं देखना भाजपा की घृणित राजनैतिक अवसरवादिता है। वहीं शैलेश नितिन त्रिवेदी ने रमनंिसंह के ट्विट का जवाब देते हुए कहा कि यह छत्तीसगढ़ के असामाजिक तत्व नहीं हैं, मध्यप्रदेश के गांजा तस्कर हैं। आप 15 साल राज्य के मुख्यमंत्री रहे है। यह टीवट और टीवट में किया गया कथन गलत है। आपकी गरिमा के अनुरूप नहीं हैं रमन सिंह जी।

सीएम बघेल ने बीजेपी और योगी पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कल रात दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं. वे वाहां आज कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में शामिल होंगे. इस दौरान पत्थलगांव हादसे पर बोलते हुए उन्होंने कहा- योगी आदित्यनाथ अपने राज्य के अपराधियों को तो पकड़ नहीं पाए थे. ऊपर से उन्हें बचाने में पूरी पुलिस लगी हुई थी, क्योंकि गृहमंत्री का लड़का था. अपराधियों के घर पर समन चस्पा किया जाता है. यहां तो घटना घटी है, बेहद दुर्भाग्य जनक है. मृतक परिवार के प्रति पूरी संवेदना और घायल जल्द से जल्द स्वस्थ हो पूरी कामना है, जो अधिकारी ठीक से ड्यूटी नहीं कर रहे थे, उन्हें हटा दिया गया है. मृतकों के परिजनों को मुआवजा भी दिया जाएगा. भाजपा द्वारा अलग-अलग मुआवजा राशि की मांग को लेकर कहा कि भाजपा पहले आपस में तय कर ले, रमन सिंह 50 लाख रुपए की मांग कर रहें है. नेताप्रतिपक्ष 75 लाख रुपए और कोई 1 करोड़ की मांग कर रहा है. मृतक परिवार को बड़ा नुकसान हुआ है. इसकी भरपाई रुपयों से नहीं हो सकती, लेकिन जिस प्रकार से घटना घटी है. निश्चित रूप से सरकार की ओर से सहायता दी जाती है. भाजपा उस पर राजनीति न करें. बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा था कि छत्तीसगढ़ के जनपद जशपुर में एक धार्मिक जुलूस पर अनियंत्रित वाहन द्वारा लोगों की कुचले जाने की दुर्घटना में हुई मृत्यु अत्यंत दु:खद है. छत्तीसगढ़ सरकार से घायलों के समुचित उपचार की व्यवस्था करने और पीडि़तों को हर संभव सहायता प्रदान करने की अपेक्षा है।

बीजेपी ने आज घटना के विरोध में पत्थलगांव बंद बुलाया

पत्थलगांव की घटना में मृतक के परिजनों को 50 लाख की सहायता देने का ऐलान किया गया है। सीएम बघेल के निर्देश पर देर रात कलेक्टर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सहायता राशि का ऐलान किया है। वहीं घटना के विरोध में भाजपा ने आज जिला बंद का आह्वान किया है। उधर हादसे के विरोध में चक्काजाम कर रहे परिजनों ने देर रात जाम हटा दिया है। हादसे में घायल सभी लोगों की स्थिति ठीक है। सिविल अस्पताल में 12 घायलों का इलाज जारी है। रायगढ़ मेडिकल कॉलेज में भी 4 का इलाज चल रहा है। कलेक्टर ने देर रात प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मृतक के परिजनों को 50 लाख सहायता देने का ऐलान किया है। बता दें शुक्रवार को तेज रफ्तार कार ने दुर्गा विसर्जन में शामिल लोगों को रौंद दिया था। घटना में 1 की मौत हो गई थी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button