अटल जी की कलश यात्रा के दौरान अंनियत्रित होकर पलटी नाव,बाल-बाल बचे सासंद

पुलिस जवान बिना देरी किए नदी में कूद पड़े और डूब रहे लोगों को बचाने में लग गए।

गोरखपुर। बस्ती शहर के कुआनो नदी के अमहट घाट पर बीते शनिवार को बड़ा हादसा टल गया। अटल जी के कलश विर्सजन के दौरान नाव अंनियत्रित होकर पलट गई।

इस पर सवार सांसद हरीश द्विवेदी, भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रमापति राम त्रिपाठी, पुलिस अधीक्षक दिलीप कुमार, विधायक दयाराम चौधरी और रवि सोनकर सहित कई लोग नदी में गिर गए।

अचानक हुई इस घटना से अफरा-तफरी मच गई। पुलिस जवान बिना देरी किए नदी में कूद पड़े और डूब रहे लोगों को बचाने में लग गए। चंद मिनटों के भीतर ही नदी से एसपी सहित सभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया।

अटल जी की स्मृति में सर्वदलीय सभा के बाद अस्थि कलश को विसर्जन के लिए भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रमापति राम त्रिपाठी अमहट घाट पर नदी की ओर बढ़े।

साथ में बस्ती के सांसद और विधायकों के अलावा डीएम, एसपी भी मौजूद रहे। पीछे प्रदेश सरकार के मंत्री सुरेश पासी, भाजपा के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष अजय सिंह गौतम, जिलाध्यक्ष पवन कसौधन समेत कारवां चल पड़ा।

जिधर नाव उलटी उधर ही घाट की दीवार

हादसा देख हर कोई हतप्रभ रह गया। तमाम लोग नदी के किनारे से भाग कर बाहर ऊंची और समतल जगह पर पहुंच गए। गनीमत यह रही कि जिधर नाव उलटी उधर ही घाट की दीवार और सीढिय़ां थीं। कई लोग नदी में गिरे तो सीढिय़ों के सहारे लटक गए।

पुलिस अधीक्षक दिलीप कुमार, सीओ सिटी आलोक सिंह, विधायक हर्रैया अजय सिंह, विधायक महादेवा रवि सोनकर, विधायक दयाराम चौधरी, भाजपा नेता पुष्कर मिश्र नदी में गिरने के बाद डूबने लगे।

एसपी को नदी में गिरता देख नदी में कूदे सीओ

एसपी को नदी में गिरता देख पास खड़े सीओ सदर आलोक सिंह कूद पड़े। नाव पर सवार दरोगा जय प्रकाश दूबे ने तेजी से एसपी का हाथ पकड़ लिया। एसपी बाहर निकाले गए तो पानी के बहाव में सीओ डूबने लगे।

सीओ को डूबने से स्वाट टीम के प्रभारी विक्रम सिंह ने बचा लिया। पुलिस जवानों और अधिकारियों की मदद से अन्य माननीयों को बाहर निकाला गया। नदी से निकाले गए लोग बाहर निकले तो डर से कांप रहे थे और खुद को सुरक्षित पा ईश्वर को धन्यवाद दे रहे थे।

Back to top button