UIDAI से पूछा- रावण को कितने आधार कार्ड मिलेंगे? जवाब ऐसा मिला जिसकी नहीं उम्मीद थी

आधार कार्ड पर देशभर में लोगों की राय अलग-अलग है। ऐसे में सोशल मीडिया पर आधार बनाने वाले यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) के ट्विटर अकाउंट से जब भी कुछ लिखा जाता है तो उसका मजाक बनाने की कोशिश होती है। ऐसा ही दशहरा पर भी हुआ।

आधार बनाने वाले विभाग UIDAI के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से दशहरा की शुभकामनाएं देने के लिए ट्वीट किया गया था। 30 सितंबर को किए गए ट्वीट में लिखा था, ‘पूरी दुनिया गुड गवर्नेंस की शक्ति देख रही है। ऐसे में हमें आधार को आगे लेकर जाना चाहिए #हैप्पीदशहरा’

इसपर लोगों ने तरह-तरह के ट्वीट कर आधार को ट्रोल करने की कोशिश की। लेकिन आधार के ट्विटर अकाउंट से एक जवाब ऐसा आया जिसकी लोगों ने उम्मीद नहीं की थी। एक शख्स ने लिखा कि सर रावण को कितने आधार कार्ड मिल सकते हैं? 10 चेहरे हैं, 10 आंख के जोड़े, कम से कम 100?

शख्स के जवाब में UIDAI ने लिखा कि वह भारत का नागरिक नहीं है। इसलिए उसका आधार नहीं बन सकता। लोगों को UIDAI का यह ट्वीट काफी पसंद आया। इस ट्वीट को 4,500 से ज्यादा रीट्वीट और 5,600 से ज्यादा लाइक मिल चुके हैं।

आधार कार्ड को लेकर पहले कई तरह की बातें होती रही हैं। ज्यादातर अकाउंट्स और डॉक्यूमेंट्स के लिए आधार कार्ड को जरूरी कर दिया गया है। विपक्ष यह कहकर निशाना साधता रहा है कि यह निजता में सेंध जैसा है। मामला सुप्रीम कोर्ट भी पहुंच चुका है। जिसका फैसला अभी आना है।

Back to top button