राष्ट्रीय

राजकोट और सौराष्ट्र के कुछ इलाकों में किए गए भूकंप के झटके महसूस

भूकंप के झटके के बाद लोग घर से बाहर निकल आए

नई दिल्ली: गुजरात के राजकोट और सौराष्ट्र के कुछ इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. भूकंप की तीव्रता 4.5 मापी गई है. भूकंप का केंद्र राजकोट से 22 किलोमीटर दूर था. भूकंप के झटके के बाद लोग घर से बाहर निकल आए.

जानमाल के नुकसान की खबर नहीं

फिलहाल, जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है. लोग डरे हुए हैं. राजकोट के आईपी मिशन स्कूल और बॉम्बे हाउसिंग सोसाइटी में भूकंप के झटकों के बाद लोग अचानक दहशत में आ गए और बचने के लिए बाहर की तरफ भागने लगे. सीएम विजय रुपाणी ने राजकोट, सुरेंद्रनगर के कलेक्टर से बात की है.

सौराष्ट्र से पहले गुजरात के कच्छ इलाके में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. बीते कुछ दिनों में कई बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं. इस वजह से लोगों में दहशत का माहौल है. गुजरात के अलावा दिल्ली-एनसीआर, जम्मू-कश्मीर में झटके महसूस किए जा चुके हैं.

4.3 तीव्रता के भूकंप के झटके

अंडमान निकोबार में 13 जुलाई की देर रात 4.3 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए. लगभग ढाई बजे रात को अंडमान निकोबार के दिजलीपुर में भूकंप के झटके आए. जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है. नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने इसकी जानकारी दी थी.

इससे पहले जम्मू-कश्मीर के राजौरी में 8 जुलाई की रात भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. बताया जा रहा था कि भूकंप का झटका रात के 2 बजकर 12 मिनट पर महसूस किया गया. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.3 मापी गई थी. किसी भी जानमाल के नुकसान की खबर नहीं थी.

3 जुलाई को राजस्थान के अलवर जिले में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 4.7 मापी गई थी. भूकंप के झटके दिल्ली-एनसीआर व इससे सटे अन्य स्थानों पर भी महसूस किए गए थे. भूकंप शाम सात बजे आया, जो कि सतह से 35 किलोमीटर की गहराई में था. कोई हताहत नहीं हुआ था.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button