चुनाव आयोग ने एक बार फिर इस वजह से सीएम योगी को भेजा नोटिस

लखनऊ: संभल में चुनावी जनसभा करते हुए सपा-बसपा और आरएलडी महागठबंधन के उम्मीदवार शफिकुर्रहमान बर्क को लेकर विवादित टिप्पणी करने को लेकर चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को नोटिस जारी कर 24 घंटे के अंदर जवाब देने को कहा है.

चुनाव आयोग ने उल्लेख किया है कि उत्तर प्रदेश के संभल में 19 अप्रैल को आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि क्या आप देश की सत्ता आतंकवादियों को सौंप देंगे, जो खुद को बाबर की औलाद कहते हैं… उनको जो बजरंगबली का विरोध करते हैं.

24 घंटे में देना हा जवाब

चु़नाव पैनल ने उन्हें इस नोटिस का जवाब देने के लिए 24 घंटे का समय देते हुए आदर्श आचार संहिता के एक प्रावधान का उल्लेख किया गया है, जिसमें कहा गया है कि समुदायों के मध्य परस्पर घृणा उत्पन्न करने या मतभेदों को बढ़ाने वाली कोई गतिविधि नहीं की जाएगी.

72 घंटे के बाद दिया था बयान

यह बयान सीएम योगी ने उस वक्त दिया था जब वह 72 घंटे के बैन के बाद पहली बार प्रचार किया था. संभल की रैली में उन्होंने महागठबंधन के उम्मीदवार शफिकुर्रहमान बर्क के खिलाफ विवादित बयान दिया था. सपा-बसपा और आरएलडी महागठबंधन ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की थी.

पहले लग चुका है 72 घंटे का बैन

आपको बता दें कि इससे पहले सीएम योगी 72 घंटे का प्रतिबंध झेल चुके हैं, तब उन्होंने ने मेरठ की रैली में अली और बजरंगबली को लेकर बयान दिया था. चुनाव आयोग ने योगी को आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी माना था.

Back to top button