बड़ी खबरराजनीतिराज्य

देश के आर्थिक हालात चिंता का विषय : गहलोत

गहलोत ने कहा, ‘‘आज देश के आर्थिक हालात किसी से छिपे नहीं हैं। जीएसटी के कम होते राजस्व संग्रहण की मार राज्यों के आर्थिक हितों पर भी पड़ रही है। रोजगार मिलना तो दूर नौकरियां जा रही हैं। मंदी के कारण आटोमोबाइल कंपनियों को अपना उत्पादन कम करना पड़ा है।'’

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को कहा कि देश के आर्थिक हालात सबके लिए चिंता का विषय हैं और जीएसटी राजस्व संग्रहण घटने की मार राज्यों के आर्थिक हितों पर भी पड़ी है।

गहलोत ने कहा, ‘‘आज देश के आर्थिक हालात किसी से छिपे नहीं हैं। जीएसटी के कम होते राजस्व संग्रहण की मार राज्यों के आर्थिक हितों पर भी पड़ रही है। रोजगार मिलना तो दूर नौकरियां जा रही हैं। मंदी के कारण आटोमोबाइल कंपनियों को अपना उत्पादन कम करना पड़ा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इस साल राज्य को केन्द्रीय करों से मिलने वाली हिस्सा राशि तथा केन्द्र प्रवर्तित योजनाओं से मिलने वाले अनुदान में करीब 7,300 करोड़ रुपये कम मिलने की संभावना है। ऐसे हालात हम सबके लिए चिंता का विषय होना चाहिए।’’

गहलोत ईडब्ल्यूएस आरक्षण से अचल संपत्ति के प्रावधानों को समाप्त करने पर आभार व्यक्त करने आए लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के इस जनकल्याणकारी फैसले से प्रदेश में सामाजिक सद्भाव का ताना-बाना और मजबूत हुआ है।

Tags
Back to top button