ईडी ने तेजस्वी, राबड़ी को फिर जारी किया सम्मन

नई दिल्‍ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने यूपीए-1 के कार्यकाल के दौरान रेलवे होटलों के आवंटन मामले में धनशोधन संबंधी अपनी जांच के सिलसिले में बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी तथा उनके पुत्र तेजस्वी यादव को फिर से सम्मन जारी किया है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पूछताछ के लिए तेजस्वी को 24 अक्टूबर को बुलाया गया है वहीं राबड़ी देवी को 27 अक्टूबर को बुलाया गया है. केंद्रीय एजेंसी बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी से एक बार नौ घंटे से अधिक समय तक पूछताछ कर चुकी है. लेकिन कम से कम चार सम्मन के बाद भी राबड़ी देवी उपस्थित नहीं हुई हैं.

एजेंसी धनशोधन निवारण कानून के तहत लालू प्रसाद के परिवार के सदस्यों और अन्य की जांच कर रही है. सीबीआई ने जुलाई में एक प्राथमिकी दर्ज की थी और पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद तथा अन्य की संपत्तियों पर कई छापे मारे थे.

सीबीआई की प्राथमिकी में आरोप लगाया गया है कि रेल मंत्री रहते हुए लालू ने आईआरसीटीसी के दो होटलों की देखरेख का जिम्मा पटना में एक महंगी जमीन लेने के बाद एक बेनामी कंपनी को सौंप दिया. उस कंपनी की स्वामी सरला गुप्ता हैं जो पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रेमचंद गुप्ता की पत्नी हैं. लालू प्रसाद 2004 से 2009 के बीच रेल मंत्री थे. ईडी ने सीबीआई प्राथमिकी के आधार पर लालू प्रसाद के परिवार के सदस्यों के खिलाफ धनशोधन निवारण कानून के तहत एक मामला दर्ज किया है.

Back to top button