राबड़ी देवी से पूछताछ क्‍यों करना चाहता है प्रवर्तन निदेशालय?

पटना: आयकर विभाग के बाद अब बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से प्रवर्तन निदेशालय भी पूछताछ करेगा. जहां आयकर विभाग ने दिल्ली की एक कोठी के संबंध में एक ही दिन रबड़ी देवी और उनके बेटे तेजस्वी यादव के साथ पूछताछ की थी. प्रवर्तन निदेशालय इस बार पटना शहर के बीचो बीच तीन एकड़ की उस ज़मीन के संबंध में सवाल करेगा. ये वो ज़मीन का हिस्सा है जो पहले पटना के सुजाता होटल के पास था, जिसने इसे पहले डिलाइट मार्केटिंग को बेचा. डिलाइट मार्केटिंग की निदेशक राजद सांसद प्रेम गुप्ता की पत्नी सरला गुप्ता थीं. बाद में इस कम्पनी में रबड़ी देवी, तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव निदेशक हुए. उन्होंने इस कम्पनी का नाम बदलकर लारा एलएलपी कर दिया. इस कम्पनी का अधिकांश शेयर रबड़ी देवी के नाम है.

हालांकि इस मामले की जांच सीबीआई और आयकर विभाग भी कर रहे हैं. जल्द लालू यादव और तेजस्वी यादव से इस मामले में दिल्ली में पूछताछ भी होगी. प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों का कहना हैं कि ये लालू यादव की बेनामी संपत्ति है जिसे आज नहीं तो कल लालू यादव की बेटी मीसा भारती के नाम से फ़ार्म हाउस के तर्ज़ पर ज़ब्त किया जाएगा.

अभी तक पूछताछ में सरला गुप्ता हों या सुजाता होटल के मालिक, कोई अपने जवाब से जांच एजेंसी को संतुष्ट नहीं कर पाया है.

Back to top button