राष्ट्रीय

संपादक शुजात हत्या मामला, गृहमंत्री बोले – कश्मीर की आवाज को दबाने की कोशिश

नई दिल्ली : ईद से एक दिन पहले जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में ‘राइजिंग कश्मीर’ अखबार के संपादक शुजात बुखारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस हमले में उनका एक अंगरक्षक भी मारा गया और दूसरा घायल है। बुखारी पर हमला श्रीनगर की प्रेस कॉलोनी में हुआ। हमला किसने किया ये अभी पता नहीं लग पाया है। हमले के बाद बुखारी को अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्होंने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

बुखारी की हत्या के बाद मीडिया जगत में शोक की लहर है। जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस हमले की कड़ी निंदा की और घटना पर दुख जताया। मुफ्ती ने ट्विटर पर लिखा- ‘शुजात बुखारी की अचानक मौत से बेहद दुखी हूं, ईद की पूर्व संध्या पर आतंक ने अपना घिनौना चेहरा दिखाया है। इस हिंसा की कार्रवाई की कड़ी निंदा करती हूं और उनकी आत्मा की शांति के लिए कामना करती हूं। उनके परिवार को मेरी ओर से सांत्वना।’

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने की निंदा : वरिष्ठ पत्रकार की हत्या की गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कड़ी निंदा की और पीड़ित परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की। राजनाथ सिंह ने कहा- ‘बुखारी की हत्या करना एक कायराना हरकत है। यह कश्मीर की आवाज दबाने की कोशिश है। बुखारी एक निडर और साहसी पत्रकार थे। उनकी मौत की ख़बर से गहरा दुख हुआ है। पीड़ित परिवार के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं।’

शुजात बुखारी की हत्या पर दुख जताते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया। उन्होंने कहा- ‘राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी की हत्या के बारे में सुनकर दुखी हूं। वह एक बहादुर दिल इंसान थे, जो जम्मू-कश्मीर में न्याय और शांति के लिए निडरता से लड़े। उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं। उन्हें भुलाया नहीं जा सकेगा।’

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने शुजात की हत्या पर दुख जताया। उन्होंने कहा- ‘शुजात बुखारी की हत्या प्रेस की आजादी पर एक क्रूर हमला है। आतंक का एक भयावह और अपमानजनक कार्य है। निडर मीडिया हमारे लोकतंत्र की सबसे बड़ी ताकत है और हम मीडिया व्यक्तियों को एक सुरक्षित और अनुकूल कामकाजी माहौल प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’

बताया जा रहा है कि शुजात बुखारी की हत्या आतंकियों ने की है। हालांकि, अभी तक किसी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

Tags

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.